DA Image
21 अप्रैल, 2021|6:48|IST

अगली स्टोरी

असलम बन गया अमित... लव जिहाद कानून पर बोले CM योगी आदित्यनाथ- धोखे से करेगा कोई शादी तो माना जाएगा अपराध

cm yogi adityanath

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कहा कि लव जिहाद का कानून सभी पर बराबरी से लागू होता है। यह किसी एक धर्म-जाति पर ही नहीं सिर्फ लागू होता। अगर अपराध हिंदू करेगा तो उस पर भी उसी तरह से कार्रवाई होगी, जैसे मुसलमान पर होगी। धोखे, छद्म, छल से अगर किसी ने महिला से शादी की तो यह अपराध की श्रेणी में आएगा। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि साल 2009 में केरल हाईकोर्ट ने चिंता जताते हुए सरकार से कहा था कि लव जिहाद केरल को इस्लामिक स्टेट बनाने की साजिश का हिस्सा है। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति अपना धर्म, महजब मानने को स्वतंत्र है, लेकिन कोई जबरदस्ती नहीं थोप सकता है।

लव जिहाद के मसले पर बात करते हुए सीएम योगी ने मेरठ के एक मामले की कहानी सुनाई। उन्होंने कहा कि एक लड़का था, जिसका नाम असलम था। उसने अमित बनकर हिंदू लड़की से शादी कर ली और उसी के घर में रहने लग गया। कई सालों तक दोनों साथ में रहे। एक बच्ची पैदा हुई तो तीन लोगों का परिवार हो गया। इस दौरान, वह हिंदू महिला पर दबाव बनाने लगा कि तुम इस्लाम स्वीकार कर लो। महिला ने कहा कि तुम्हारा नाम अमित था, असलम कैसे हो गया। उसने कहा कि मेरा असली नाम असलम ही है। 

सीएम योगी ने न्यूज चैनल आजतक से बात करते हुए आगे बताया कि उस महिला ने पूरा मामला अपनी एक सहेली को बताया। उसकी सहेली ने देखना शुरू किया कि कई दिन हो गए महिला दिखाई नहीं दे रही। एक दिन असलम नाम का शख्स जो अमित नाम से रह रहा था, वह अपने घर के दरवाजे बंद करके गायब हो गया। तब महिला की सहेली ने पुलिस में शिकायत की और फिर पुलिस ने जब चेक किया तो उसे कुछ नहीं मिला। बाद में मेरे पास पत्र आया तो मैंने आदेश दिया। घर के अंदर जब फर्श तोड़ी गई तो महिला और उसकी बेटी मिली, जिनकी दफनाकर हत्या कर दी गई थी। बाद में आरोपी शख्स पुलिस मुठभेड़ में पकड़ा गया। 

मुख्यमंत्री ने बताया कि लव जिहाद के इसी तरह के मामले ऐटा, लखनऊ आदि में भी सामने आए। हमने इस कानून को लागू करने के बाद 50-55 कार्रवाई हो चुकी है। प्रदेश में माहौल बिगाड़ने की छूट कभी नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि चार सालों में उत्तर प्रदेश में एक भी दंगा नहीं होने दिया। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में पिछले साल 24 नवंबर को योगी आदित्यनाथ कैबिनेट लव जिहाद के खिलाफ अध्यादेश लेकर आई थी। इसके बाद यह राज्यपाल के पास गया। जिसके बाद 28 नवंबर, 2020 को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने इसे मंजूरी दे दी। जिसके बाद से यह कानून अमल में आ गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Aslam changed his name to become Amit CM Yogi Adityanath speaks on love jihad law says law apply on everyone