ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशएंटी करप्शन टीम ने इंस्पेक्टर को रिश्वत लेते पकड़ा, शिकायत पर एक्शन

एंटी करप्शन टीम ने इंस्पेक्टर को रिश्वत लेते पकड़ा, शिकायत पर एक्शन

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में मत्स्य पालन विभाग के इंस्पेक्टर को सहारनपुर एंटी करप्शन टीम ने विकास भवन के बाहर किसान से 15 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा है।

एंटी करप्शन टीम ने इंस्पेक्टर को रिश्वत लेते पकड़ा, शिकायत पर एक्शन
Deep Pandeyहिन्दुस्तान,मुजफ्फरनगरWed, 24 Apr 2024 12:41 PM
ऐप पर पढ़ें

मुजफ्फरनगर में मत्स्य पालन विभाग के इंस्पेक्टर को सहारनपुर एंटी करप्शन टीम ने मंगलवार को विकास भवन के बाहर किसान से 15 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा है। टीम ने शामली जनपद के गांव बुटराडा निवासी किसान द्वारा तीन दिन पहले की गई शिकायत पर यह कार्रवाई की है।

विकास भवन में मत्स्य पालन विभाग में इंस्पेक्टर आनंद कुमार कार्यरत है। आनंद पर शामली जिले का भी प्रभार है। शामली के गांव बुटराडा निवासी निशांत ने अपनी माता बिमला देवी के नाम से मछली पालन तालाब के लिए आवेदन दिया था। मछली पालन के लिए विभाग से पुरूष को 40 प्रतिशत और महिला को 60 प्रतिशत का अनुदान मिलता है।

आरोप है कि इंस्पेक्टर आनंद कुमार के द्वारा योजना का लाभ देने के लिए 25 हजार रुपए की रिश्वत मांगी गई। निशांत ने इसकी शिकायत तीन दिन पूर्व सहारनपुर एंटी करप्शन टीम से की। मंगलवार को निशांत 15 हजार रुपए की धनराशि लेकर मत्स्य पालन विभाग में पहुंचा। यहां पर निशांत ने आनंद को कुछ दस्तावेज दिए। इस दौरान उसने पैसे देने का प्रयास किया। बताया जाता है कि आनंद ने कार्यालय में रिश्वत लेने से इंकार कर दिया। वह निशांत को लेकर विकास भवन के बाहर स्थित एक फोटो स्टेट की दुकान के समीप पहुंचा। जहां आनंद ने निशांत से रिश्वत के 15 हजार रुपए लिए। इसी दौरान वहां पर पहले से मौजूद एंटी करप्शन टीम ने उसे रंगे हाथ रिश्वत लेते हुए पकड़ लिया। एंटी करप्शन टीम आरोपी आनंद को लेकर थाना सिविल लाइन पहुंची और पुलिस को सौंप दिया। 

सहायक निदेशक मत्स्य व इंस्पेक्टर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज
रिश्वत प्रकरण में सहायक निदेशक मत्स्य राजेलाल को भी जांच में आरोपी बनाया गया है। तालाब की सब्सिडी की किस्त 2,36,577 रुपए भुगतान की एवज में कार्यालय सहायक निदेशक मत्स्य के द्वारा रिश्वत मांगी जा रही थी। एंटी करप्शन प्रभारी सुभाष चन्द्र ने बताया कि थाना सिविल लाइन में सहायक निदेशक मत्स्य राजेलाल और इंस्पेक्टर आनंद कुमार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।