ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशवाराणसी में आंध्रप्रदेश के दंपति और दो बेटों ने लगाई फांसी, फंदे से लटका मिला परिवार 

वाराणसी में आंध्रप्रदेश के दंपति और दो बेटों ने लगाई फांसी, फंदे से लटका मिला परिवार 

यूपी के वाराणसी में आंध्रप्रदेश के रहने वाले दंपति ने दो बेटों ने आत्महत्या कर ली। चारों लोगों का शव फंदे से लटका मिला। घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची ।

वाराणसी में आंध्रप्रदेश के दंपति और दो बेटों ने लगाई फांसी, फंदे से लटका मिला परिवार 
Dinesh Rathourलाइव हिन्दुस्तान,वाराणसीThu, 07 Dec 2023 07:42 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के वाराणसी में दशाश्वमेध क्षेत्र के देवनाथपुरा स्थित आंध्रा आश्रम में गुरुवार शाम ईस्ट गोदावरी (आंध्र प्रदेश) निवासी एक दंपती ने दो बेटों के साथ फंदे पर लटकर जान दे दी। उनके कमरे से मिले सुसाइड नोट में लेन-देन के विवाद और आर्थिक तंगी से सामूहिक जान देने की बात लिखी है। पुलिस आयुक्त मुथा अशोक जैन ने बताया कि सुसाइड नोट के आधार पर मुकदमा दर्ज करके आगे की कार्रवाई होगी। 

ईस्ट गोदावरी के मंडापेटा के धर्मागुड़म स्ट्रीट निवासी कोंडा बाबू (50), उनकी पत्नी लावन्या (45), बेटे जी. राजेश (25) और जयराज (23) बीते तीन दिसंबर की सुबह आंध्रा आश्रम पहुंचे। करीब 11.30 बजे उन्होंने कैलाश भवन में दूसरी मंजिल पर एस-6 कमरा बुक कराया। आश्रमकर्मियों के मुताबिक परिवार प्रतिदिन एक साथ बाहर जाता था, फिर शाम को लौटता। बुधवार को जी. राजेश दिन में 11 से 12 बजे के बीच कार्यालय पहुंचा और बताया कि वह गुरुवार सुबह नौ बजे चेकआउट कर लेंगे। इसके लिए उसने भुगतान भी किया। गुरुवार सुबह सफाईकर्मी पहुंची तो दरवाजा बंद मिला।

फिर शाम को फिर से सफाईकर्मी गई तो कोई सुगबुगाहट नहीं मिली। खटखटाने पर भी आवाज नहीं आई तो केयर टेकर को सूचना दी। केयर टेकर खिड़की का पल्ला हटाकर देखा तो चारों फंदे पर लटके हुए थे। कमरे से तेलुगू भाषा में सुसाइड नोट, बोतल में करीब 50 मिली पेट्रोल और ब्लेड का पैकेट मिला। पुलिस ने सभी शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजवाया। आशंका है कि सभी ने पेट्रोल भी पीया है। जी. राजेश की कलाई भी कटी है।

पैसे की तंगी के चलते दो महीने से भटक रहा था परिवार

आंध्रप्रदेश के जिस परिवार ने वाराणसी में फांसी लगाकर आत्महत्या की है, पुलिस को उसके पास से एक सुसाइड भी मिला है। सुसाइड नोट तेलगु भाषा में लिखा था। पुलिस ने सुसाइड नोट की भाषा को पढ़ाया तो पता चला कि परिवार पैसों की तंगी के चलते दो महीने से इधर-उधर भटक रहा था। पुलिस के अनुसार आंध्र प्रदेश में पैसों को लेकर इस परिवार का किसी से विवाद चल रहा था। इसी के चलते पूरा परिवार आंध्रप्रदेश छोड़कर दूसरे राज्यों में मारा-मारा फिर रहा था। पिछले दो महीनों में ये पूरा परिवार कई जगह रुक चुका था। गुरुवार को दंपति के पास पैसे खत्म हो गए थे, इसलिए उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें