An usurer forfeited the ear rings of a pregnant woman in the labor room of Shivrajpur Community Health Center of Kanpur in Uttar Pradesh - कानपुर: लेबर रूम में सूदखोर ने गिरवी रखवा लिए गर्भवती के कुंडल DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कानपुर: लेबर रूम में सूदखोर ने गिरवी रखवा लिए गर्भवती के कुंडल

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र (सीएचसी) शिवराजपुर के लेबर रूम में सूदखोर ने एक गर्भवती महिला के कान के कुंडल निकलवा लिए।

kanpur-uttar-pradesh jpg

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र (सीएचसी) शिवराजपुर के लेबर रूम में सूदखोर ने एक गर्भवती महिला के कान के कुंडल निकलवा लिए। अस्पताल में पांच हजार रुपए जमा करने पर सीजेरियन हुआ। प्रसूता की मां ने अस्पताल के कर्मचारियों पर आरोप लगाया है कि अचानक सीजेरियन करने की बात कहकर रुपए मांगे गए थे। सीएमओ ने घटना को बेहद गम्भीर मानते हुए जांच के आदेश दिए हैं। गौरन नेवादा निवासी रश्मि को दो दिन पूर्व प्रसव पीड़ा शुरू हुई। परिजन उन्हें शिवराजपुर सीएचसी लाए। रश्मि की मां कलावती के अनुसार, स्टाफ नर्स और दूसरे कर्मचारियों ने कहा कि इंतजार करो, सामान्य डिलीवरी हो जाएगी। उनका आरोप है कि शनिवार को अचानक अस्पताल के कर्मचारियों ने कहा कि 15 मिनट के अंदर सीजेरियन करना होगा नहीं तो जच्चा-बच्चा दोनों की जान को खतरा है।

Read Also: खुशखबरी: राज्यकर्मियों को बोनस के साथ वेतन और पेंशन 25 अक्तूबर को देने की तैयारी

पांच हजार रुपए का इंतजाम करना होगा। कलावती ने कहा, मेरे पास पैसे नहीं थे। मैंने कहा कि मुझे कहीं से इंतजाम करना होगा। इस पर कर्मचारी बोले कि तुरंत इंतजाम करो। जो गहने पहने हो, उसे गिरवी रख दो। मेरे गहने सोने के नहीं थे। बेटी ने कुंडल पहन रखे थे। मैंने यह भी कहा कि मेरा यहां कोई जानने वाला नहीं है तो एक कर्मचारी ने सूदखोर को बुलवा लिया। सूदखोर ने कुंडल निकलवा लिए और पांच हजार रुपए देकर चला गया। उसने अपना मोबाइल नम्बर दिया। कोई लिखा-पढ़ी नहीं हुई। रुपए देने के बाद बेटी का सीजेरियन किया गया।

Read Also: महिलाओं से अभद्रता करने वाले दरोगा का वीडियो वायरल, CM की एक्टिव सेल से आया फोन

मामले की जानकारी अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. अनुज दीक्षित को हुई तो उन्होंने पड़ताल कराई। कलावती किसी का नाम नहीं बता पा रही हैं। उनका कहना है कि सूदखोर और उसे लाने वाला सामने आएगा तो पहचान लेंगी। अस्पताल के सभी कर्मचारियों की शिनाख्त महिला से कराई गई पर दोनों का पता नहीं चला। कानपुर के सीएमओ डॉ. अशोक शुक्ला ने कहा कि उन्होंने चिकित्सा अधीक्षक से जांच करने को कहा है। महिला अगर कुंडल गिरवी कराने वाले कर्मचारी की पहचान कर लेती है उसे पूरी कीमत देनी होगी। सूदखोर से लाकर कुंडल भी देना होगा। उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। विभागीय कार्रवाई भी की जाएगी। इस मामले की पड़ताल एसीएमओ आरसीएच अलग से करेंगे।

पाइए देश-दुनिया की हर खबर सबसे पहले www.livehindustan.com पर। लाइव हिन्दुस्तान से हिंदी समाचार अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करें हमारा News App और रहें हर खबर से अपडेट।     

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:An usurer forfeited the ear rings of a pregnant woman in the labor room of Shivrajpur Community Health Center of Kanpur in Uttar Pradesh