ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशलखनऊ में अमित शाह की बड़ी मीटिंग, अवध की सीटों पर हो सकती है मंत्रणा, सीएम योगी और डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक भी पहुंचे

लखनऊ में अमित शाह की बड़ी मीटिंग, अवध की सीटों पर हो सकती है मंत्रणा, सीएम योगी और डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक भी पहुंचे

पश्चिमी यूपी में जोर लगाने के बाद भाजपा की नजरें अब अवध की सीटों पर टिक गई हैं। पांचवे चरण होने वाली वोटिंग से पहले गृहमंत्री अमित शाह ने लखनऊ में बड़ी बैठक कर रहे हैं।

लखनऊ में अमित शाह की बड़ी मीटिंग, अवध की सीटों पर हो सकती है मंत्रणा, सीएम योगी और डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक भी पहुंचे
Dinesh Rathourलाइव हिन्दुस्तान,लखनऊThu, 02 May 2024 07:31 PM
ऐप पर पढ़ें

पश्चिमी यूपी में जोर लगाने के बाद भाजपा की नजरें अब अवध की सीटों पर टिक गई हैं। पांचवे चरण में होने वाली वोटिंग से पहले गृहमंत्री अमित शाह गुरुवार की शाम लखनऊ पहुंचे हैं। गृहमंत्री शाह यहां एक होटल में संगठन के नेताओं के साथ बड़ी बैठक की। मीटिंग में सीएम योगी के अलावा डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक भी शामिल हुए। माना जा रहा है कि लखनऊ के होटल में आयोजित इस मीटिंग में शाह अवध की आठ सीटों पर मंत्रणा कर सकते हैं। 

गुरुवार को बरेली और बदायूं में आयोजित जनसभा के बाद लखनऊ पहुंचे गृहमंत्री ने मीटिंग की शुरुआत दीप जलाकर की। अमित शाह की इस मीटिंग में शामिल होने के लिए संगठन के कई बड़े नेता भी पहुंचे है। इनमें सीएम योगी आदित्यनाथ के अलावा डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक, प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी और संगठन महामंत्री धर्मपाल सिंह के अलावा अवध, कानपुर और काशी क्षेत्र की लोकसभा चुनाव से जुड़ी कोर टीम मौजूद रही। मीटिंग में अमित शाह पांचवे चरण में होने वाली अवध और बुंदेलखंड की 14 सीटों की तैयारियां की समीक्षा कर रहे हैं। इनमें लखनऊ, मोहनलालगंज, रायबरेली, अमेठी, बाराबंकी, फैजाबाद, कैसरगंज, गोंडा को जिताने के लिए खास फोकस रहेगा।  

पांचवे चरण में 14 सीटों पर होगी वोटिंग

पांचवे चरण में होने वाली 14 सीटों के लिए 26 अप्रैल से नामांकन जारी हैं जो तीन मई तक चलेंगे। शुक्रवार को नामांकन का आखिरी दिन है। अवध और बुन्देलखंड की इन 14 सीटों में मोहनलालगंज (सु.), लखनऊ, रायबरेली, अमेठी, जालौन सु., झांसी, हमीरपुर, बांदा, फतेहपुर, कौशाम्बी सु., बाराबंकी सु., फैजाबाद, केसरगंज और गोण्डा शामिल हैं। पांचवें चरण की इन 14 सीटों में से कई सीटें बहुत प्रतिष्ठा वाली सीटें मानी जाती हैं। इनमें लखनऊ सीट से रक्षामंत्री राजनाथ सिंह एक बार फिर भाजपा के टिकट पर मैदान में हैं तो लखनऊ के ग्रामीण इलाके की सीट मोहनलालगंज सु.सीट पर केन्द्रीय राज्य मंत्री कौशल किशोर को भाजपा ने फिर प्रत्याशी बनाया है। अमेठी सीट पर पिछले चुनाव में कांग्रेस के राहुल गांधी को हराने वाली केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी फिर भाजपा प्रत्याशी हैं। विपक्ष के इण्डिया गठबंधन से अभी तक अमेठी व रायबरेली जैसी प्रतिष्ठित सीट पर अभी सस्पेंस बना हुआ है।

जालौन सु.सीट पर मौजूदा केन्द्रीय मंत्री भानु प्रताप वर्मा को भाजपा ने फिर उम्मीदवार बनाया है। इसी तरफ फैजाबाद सीट पर वर्तमान सांसद लल्लू सिंह, गोण्डा सीट पर मौजूदा सांसद कीर्तवर्धन सिंह, हमीरपुर सीट पर कुंवर पुष्पेन्द्र सिंह चन्देल, झांसी सीट पर अनुराग शर्मा, फतेहपुर सीट पर साध्वाी निरंजन ज्योति, कौशाम्बी सीट पर विनोद सोनकर एक बार फिर भाजपा के टिकट पर मैदान में उतरे हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव के नतीजों पर नजर डालें तो इन 13 सीटों में से सिर्फ रायबरेली सीट पर कांग्रेस की सोनिया गांधी चुनाव जीती थीं बाकी 13 सीटों पर भाजपा उम्मीदवार विजयी हुए थे।