ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशसहारा के फंड से चलती थी उनकी पार्टी, अखिलेश यादव पर कुशीनगर से अमित शाह का बड़ा हमला

सहारा के फंड से चलती थी उनकी पार्टी, अखिलेश यादव पर कुशीनगर से अमित शाह का बड़ा हमला

अमित शाह ने कहा कि तीन कारपोरेटिव का रिफंड चालू हो गया है और प्राइवेट लिमिटेड कंपनी है जिसका केस सु्प्रीम कोर्ट में है। उन्‍होंने कहा कि लोगों को 85 हजार करोड़ रुपए वापस कराएंगे ये हमारी गाारंटी है।

सहारा के फंड से चलती थी उनकी पार्टी, अखिलेश यादव पर कुशीनगर से अमित शाह का बड़ा हमला
20240524-pat-sk-mn-amit-shah--14-0 jpg
Ajay Singhलाइव हिन्‍दुस्‍तान ,कुशीनगरMon, 27 May 2024 02:38 PM
ऐप पर पढ़ें

Amit Shah in Kushinagar: लोकसभा चुनाव-2024 के तहत यूपी की 13 सीटों पर सातवें चरण का मतदान एक जून को होना है। इस अंतिम चरण में जीत सुनिश्चित करने के लिए दलों-नेताओं ने पूरी ताकत झोंक दी है। इस बीच सोमवार को कुशीनगर में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस-समाजवादी पार्टी और बसपा पर जमकर हमला बोला। सहारा इंडिया परिवार में लोगों के फंसे रुपयों को वापस दिलाने को लेकर सपा द्वारा उठाए गए सवालों का जिक्र करते हुए उन्‍होंने कहा कि आज अखिलेश यादव सहारा रिफंड पोर्टल का मु्द्दा उठा रहे हैं। मुझे बताइए कि 85 हजार करोड़ रुपए का सहारा का घपला किसके समय में हुआ? किसने लोगों को लूटने दिया? अखिलेश यादव की पार्टी सहारा के फंड से चलती थी। सहारा की लूट आपने जन्‍म दी। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने तो रिफंड देने की शुरुआत की है। केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि तीन कारपोरेटिव का रिफंड चालू हो गया है और प्राइवेट लिमिटेड कंपनी है जिसका केस सु्प्रीम कोर्ट में है। उन्‍होंने कहा कि लोगों को 85 हजार करोड़ रुपए वापस कराएंगे ये हमारी गारंटी है। 

उन्‍होंने कहा कि छह चरण का चुनाव खत्‍म हो गया है। मेरे पास पांच चरण का आंकड़ा है। इन पांच चरणों में प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने 310 सीटों का आंकड़ा पार कर लिया है। छठा चरण हो गया, सातवां होने वाला है। उन्‍होंने कहा कि मैं आज चार जून का परिणाम कहता हूं। राहुल गांधी की पार्टी 40 भी पार नहीं कर पाएगी। अखिलेश यादव की पार्टी की तो चार सीटें भी पार नहीं होंगी। देश की जनता ने अगले पांच साल के लिए नरेन्‍द्र मोदी को अपना प्रधानमंत्री तय कर लिया है। चार जून को एनडीए की विजय निश्चित है। चार तारीख की दोपहर को आप देख लेना कि राहुल गांधी के लोग प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहेंगे कि वे ईवीएम के कारण हारे। 

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि हार का ठीकरा भाई-बहन पर नहीं फूटेगा। हार का ठीकरा खड़गे (मल्लिकार्जुन)  साहब पर फूटेगा। उनकी नौकरी जाने वाली है। अमित शाह ने कहा कि इस लड़ाई में एक ओर नरेन्‍द्र मोदी हैं जिन्‍होंने एक अति पिछड़े के घर में जन्‍म लिया। दूसरी ओर चांदी के चम्‍मच के साथ जन्‍मे दो शहजादे, राहुल गांधी और अखिलेश यादव हैं। पूर्वांचल की तकलीफ इन्‍हें मालूम नहीं है। राहुल गांधी पूर्वांचल की समस्‍याओं का निवारण कर सकते हैं क्‍या? एक ओर नरेन्‍द्र मोदी हैं जिन पर 23-23 साल तक मुख्‍यमंत्री-प्रधानमंत्री रहते हुए भी 25 पैसे का आरोप नहीं लगा है। दूसरी ओर ये दो शहजादे 10 साल में 12 लाख करोड़ के घपले-घोटाले-भ्रष्‍टाचार करने वाले ये लोग...हैं। इनको इस देश का मौसम रास नहीं आता है। राहुल गांधी हर छह महीने में छुट्टी पर बैंकाक-थाईलैंड चले जाते हैं। पूर्वांचल की गर्मी उनसे सहन नहीं होती। दूसरी ओर नरेन्‍द्र मोदी हैं जिन्‍होंने पिछले 23 साल से एक भी दिन की छुट्टी लिए बगैर दीपावली के दिन भी सेना के जवानों के साथ मिठाई खाने का काम किया है। इन दोनों के बीच में पूर्वांचल के लोगों को तय करना है। 

अमित शाह ने कहा कि मैं आज अखिलेश यादव और बसपा प्रमुख बहन मायावती से पूछना चाहता हूं कि ये हमारा कुशीनगर चीनी का कटोरा के नाम से प्रसिद्ध था। आपके समय में चीनी मिलें बंद हो गईं। हमारी सरकार के समय में 20 बंद की हुई चीनी मिलों को चालू करने का काम मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने किया है। पांच नई मिलें बनाने का काम भी भाजपा की सरकार ने किया। 38 चीनी मिलों की क्षमता में वृद्ध‍ि की और गन्‍ने की बुवाई का क्षेत्रफल नौ लाख हेक्‍टेअर बढ़ाने का काम किया है। 1995 से 2017  से सपा-बसपा की सरकारों ने गन्‍ना किसानों को सिर्फ 23 हजार करोड़ रुपए का भुगतान किया था। 2017 से 2024 तक भाजपा सरकार ने 2.50 लाख करोड़ का भुगतान कर दिया। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी इथेनॉल पॉलिसी लाए। पहले यूपी में 42 करोड़ लीटर इथेनॉल बनता है। आज 56 करोड़ लीटर इथेनॉल बनता है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने पेट्रोल-डीजल का खर्च तो घटाया ही किसानों की आय भी बढ़ाई। 

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि गलती से भी यदि इनको जिता दिया तो ये पिछड़ों का आरक्षण छोड़कर मुस्लिमों को देंगे। यह संविधान सम्‍म्‍त नहीं है। जब तक नरेन्‍द्र मोदी हैं, पिछड़ा वर्ग के आरक्षण को कोई हाथ नहीं लगा सकता। जब तक भाजपा का एक भी सांसद है हम इस देश में धर्म के आधार पर आरक्षण को नहीं आने देंगे। ये सत्‍ता में आए तो पांच साल में बारी-बारी पांच प्रधानमंत्री बनाने की बात करते हैं। ये चल सकता है क्‍या?