ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशसपा गठबंधन के सभी बड़े नेता चुनाव हार चुके, नौटंकी बंद करो, अखिलेश यादव के आरोपों पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद का हमला

सपा गठबंधन के सभी बड़े नेता चुनाव हार चुके, नौटंकी बंद करो, अखिलेश यादव के आरोपों पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद का हमला

बनारस में सपाइयों द्वारा ईवीएम लदी गाड़ी पकड़ी जाने और अखिलेश यादव के आरोपों के बाद डिप्टी सीएम केशव प्रसाद ने सपा प्रमुख पर हमला किया है। केशव ने कहा कि पराजय के डर से निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनावों...

सपा गठबंधन के सभी बड़े नेता चुनाव हार चुके, नौटंकी बंद करो, अखिलेश यादव के आरोपों पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद का हमला
Yogesh Yadavलखनऊ लाइव हिन्दुस्तानTue, 08 Mar 2022 08:59 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

बनारस में सपाइयों द्वारा ईवीएम लदी गाड़ी पकड़ी जाने और अखिलेश यादव के आरोपों के बाद डिप्टी सीएम केशव प्रसाद ने सपा प्रमुख पर हमला किया है। केशव ने कहा कि पराजय के डर से निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनावों का स्वागत करने की जगह सपा प्रमुख अखिलेश यादव के आरोप पराजय के बाद का मीडिया के लिए जारी होने वाला प्रेस नोट है। मतगणना से पहले तैयार कर रहे हैं। सपा की करारी हार सरकार में रहते किए काले कारनामों के कारण हो रही है। 

गौरतलब है कि बनारस में ईवीएम की गाड़ी पकड़ी जाने के बाद अखिलेश यादव ने सुभासपा प्रमुख ओपी राजभर के साथ लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस कर सरकार और चुनाव आयोग पर कई आरोप लगाए। उन्होंने एग्जिट पोल को लेकर मीडिया पर भी निशाना साधा। इसे लेकर ही केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट से अखिलेश पर हमला किया। 

केशव ने लिखा कि सपा गठबंधन के तथाकथित सभी बड़े नेता चुनाव हार चुके हैं। मतगणना के पहले नौटंकी बंद करें। चुनाव आयोग सभी प्रत्याशियों को ईवीएम मशीन की रखवाली की अनुमति है, परंतु यूपी अब जातिवादी, परिवारवादी, गुंडागर्दी, दंगाईयों के विरूद्ध ईमानदारी से काम करने वाली पार्टी की सरकार के साथ है और रहेगी। केशव ने कहा कि परिवारवाद के प्रतीक अखिलेश यादव का हार के भय से लोकतंत्र बचाने के लिए क्रांति की बात करना महज़ हास्यास्पद है। कथित परिवारवाद से लोकतंत्र को बचाने का काम केवल भाजपा ही कर रही है।

क्या है अखिलेश का आरोप
अखिलेश यादव ने काउंटिंग में गड़बड़ी का भी आरोप लगाया है। उन्होंने एग्जिट पोल्स में बीजेपी की जीत की भविष्यवाणी को भी इसी का एक हिस्सा बताया है। अखिलेश यादव ने मंगलवार शाम को लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि यह लोकतंत्र की आखिरी लड़ाई है और अब बदलाव के लिए क्रांति करनी होगी।

अखिलेश यादव ने कहा, ''यह सूचना मिल रही थी मुख्यमंत्री के सबसे बड़े अधिकारी, प्रमुख सचिव का जगह-जगह फोन जा रहा है कि जहां बीजेपी हारे वहां काउंटिंग स्लो करिए। यदि हम पिछला चुनाव देखें जो बीजेपी की जो जीत हुई, 47 सीटें ऐसी हैं जहां 5 हजार से कम वोट का मार्जिन है। आज बनारस में देखने को मिला है, ईवीएम ले जाईं जा रही थीं। एक ट्रक पकड़ा गया, दो ट्रक लेकर भाग गए। यदि सरकार वोट की चोरी नहीं कर रही थी तो बताए दो गाड़ियां क्यों भागीं। सुरक्षा का इंतजाम क्यों नहीं किया गया। क्या वजह है कि बिना सिक्यॉरिटी के ईवीएम जा रही हैं। किसी वेयर हाउस और स्ट्रॉन्ग रूप में रखा है तो बिना प्रत्याशियों को सूचना दिए मूव नहीं किया जा सकता है।''

वाराणसी, बरेली और सोनभद्र में ईवीएम और बैलेट पेपर गायब करने का आरोप लगाते हुए अखिलेश यादव ने कहा, ये उसी दिन घबरा गए जिस दिन अखबरों में आया कि कहीं पार्क की सफाई हो रही है, कहीं घर की सफाई हो रही है। जमीन पर बीजेपी के खिलाफ गुस्सा है।''

epaper