DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  अलीगढ कांड: मुख्य आरोपी की पत्नी को भी पुलिस ने किया गिरफ़्तार, मासूम के शव को उसी की चुनरी में लपेट कर फेंका गया था

उत्तर प्रदेशअलीगढ कांड: मुख्य आरोपी की पत्नी को भी पुलिस ने किया गिरफ़्तार, मासूम के शव को उसी की चुनरी में लपेट कर फेंका गया था

अलीगढ़, हिन्दुस्तान टीमPublished By: Govind
Sat, 08 Jun 2019 03:13 PM
ssp ALIGARH
1 / 2ssp ALIGARH
symbolic image
2 / 2symbolic image

अलीगढ़ के टप्पल में टप्पल में ढाई साल की बच्ची की बर्बरता से हत्या के मामले में एक और गिरफ्तारी हई है। इस मामले में मुख्य आरोपी की पत्नी को भी पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया है। बताया गया कि आरोपियों ने उसी की चुनरी में मासूम के शव को लपेट कर फेंका गया था। 2.5 साल की मासूम की हत्या के मामले में अलीगढ़ के एसएसपी ने कहा कि मुख्य आरोपी ज़ाहिद और उसकी पत्नी समेत 4 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। जिस कपड़े से शव को लपेटा गया था वह जाहिद की पत्नी का ही था। हम पीड़ित परिवार से मिले हैं और उन्होंने मांग की है कि आरोपियों को फांसी की सजा दी जानी चाहिए। चार्जशीट दाखिल करना अभी बाकी है। 

इससे पहले इस मामले में लोगों में बढ़ते गुस्से से दबाव में आई यूपी पुलिस ने कार्रवाई करते हुए मामले में लापरवाही बरतने वाले पांच पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया है। मामले की जांच के लिए एसआइटी गठित की गई है। हत्या के आरोप में बच्ची के पड़ोसी जाहिद और असलम को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस आरोपियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई कर रही है।

10 हजार रुपये बने काल 

परिवार के मुताबिक बच्ची के दादा से आरोपी ने 50 हजार रुपये कर्ज लिए थे, जिसमें से 10 हजार रुपये उसने नहीं दिए थे। इसी बात को लेकर दोनों परिवारों के बीच बच्ची के गायब होने से दो दिन पहले बहस हुई थी। उन्होंने कहा कि जाहिद ने अपमान का बदला लेने की धमकी दी थी। 

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, "अलीगढ़ में बच्ची की बर्बर तरीके से हत्या की गई है। यूपी ने मुझे स्तब्ध और परेशान कर दिया है। कैसे कोई इंसान इतनी बर्बरता से बच्ची की हत्या कर सकता है। यह जघन्य अपराध है और दोषी को बिना सजा छोड़ा नहीं जा सकता।" 

मासूम के कत्ल की जांच एसआईटी करेगी, हत्यारों पर रासुका और पॉस्को एक्ट के तहत होगी कार्रवाई

टप्पल में दिल दहला देने वाले ढाई साल की मासूम की निर्मम हत्या की जांच अब एसआईटी करेगी। सोशल मीडिया और मीडिया में मुद्दा छाने के बाद हरकत में आए पुलिस-प्रशासन ने दोनों हत्यारोपियों पर रासुका और पॉक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई की घोषणा की है। ढाई साल की मासूम बच्ची के साथ की गई हैवानियत और हत्या का मसला शुक्रवार को देशभर में चर्चा का विषय बन गया। एसएसपी अलीगढ़ आकाश कुलहरि ने शुक्रवार को मामले की जांच के लिए एसआईटी के गठन की घोषणा की। कप्तान ने बताया कि एसपी क्राइम डॉ. अरविंद कुमार और एसपी देहात मणिलाल पाटीदार के नेतृत्व में टीम मामले की जांच करेगी।

महिला थाने की इंस्पेक्टर सुनीता मिश्रा समेत पांच इंस्पेक्टर टीम में शामिल किए गए हैं। इसके साथ ही एफएसएल व सर्विलांस की टीम को भी लगाया गया है। यूपी के डीजी लॉ एंड ऑर्डर आनंद कुमार ने आरोपियों पर पॉक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई के निर्देश अलीगढ़ पुलिस को दिए। कप्तान ने बताया कि मासूम के दोनों हत्यारोपियों पर रासुका के साथ-साथ पॉक्सो एक्ट के तहत भी कार्रवाई की जाएगी।  

संबंधित खबरें