ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशअयोध्या राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा का आमंत्रण भेजने को आज होगा अक्षत पूजन, पूजा के बाद भेजेंगे देशभर में

अयोध्या राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा का आमंत्रण भेजने को आज होगा अक्षत पूजन, पूजा के बाद भेजेंगे देशभर में

अयोध्या राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के आमंत्रण भेजने के लिए आज अक्षत पूजन होगा। देशभर में ये पूजित अक्षत भेजे जाएंगे जिन्हें ले जाने के लिए देश भर से दो सौ केंद्र प्रमुख अयोध्या पहुंचे हैं।

अयोध्या राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा का आमंत्रण भेजने को आज होगा अक्षत पूजन, पूजा के बाद भेजेंगे देशभर में
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,अयोध्याSun, 05 Nov 2023 08:51 AM
ऐप पर पढ़ें

श्रीरामजन्म भूमि में निर्माणाधीन दिव्य मंदिर में रामलला के नवीन विग्रह की प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव के लिए देश भर में आमन्त्रण भेजने के लिए अक्षत पूजन रविवार को किया जाएगा। इस अक्षत पूजन की तैयारियां पूरी हो गयी हैं। रामलला के दरबार में पूजन के लिए देशी घी व हल्दी मिश्रित अक्षत को पांच-पांच किलो के हिसाब से एक सौ से अधिक पीतल के कलशों में भरकर रखवाया गया है। इस बीच इस कलश को देश के विभिन्न प्रांतों के अलग-अलग केंद्रों में भेजने के लिए सभी प्रांतों के दो सौ से अधिक केंद्र प्रमुख शनिवार को यहां पहुंच गये हैं।

उधर रामलला के दर्शनार्थियों की सुविधाओं के लिए जन्मभूमि पथ पर यात्री सुविधा केंद्र निर्माण के लिए शनिवार को अपराह्न भूमि पूजन किया गया। इसके उपरांत वैदिक मंत्रोच्चार के बीच श्रीरामजन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र महासचिव चंपतराय एवं तीर्थ क्षेत्र के न्यासी एवं निर्मोही अखाड़ा के महंत दिनेन्द्र दास ने नींव में पांच शिलाओं को प्रतिष्ठित किया।

इस मौके पर तीर्थ क्षेत्र महासचिव ने बताया कि रामलला के दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए इस केंद्र का निर्माण कराया जाएगा, जो कि 18 हजार वर्ग फिट में निर्मित होगा। उन्होंने बताया कि एक यात्री सुविधा केंद्र का निर्माण श्रीरामजन्म भूमि परिसर में भी हो रहा है लेकिन यहां पहुंचने के लिए श्रद्धालुओं को सुरक्षा जांच से होकर गुजरना होगा जबकि यहां कोई जांच नहीं होगी।

जीएसटी से बढ़ा यूपी के सरकारी खजाने का राजस्व, आबकारी व स्टाम्प से घटा, देखें आंकड़े

सुविधा केंद्र में पीएचसी व रेलवे आरक्षण केंद्र की भी होगी सुविधा
श्रीरामजन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ने बताया कि इस सुविधा केंद्र में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र व रेलवे आरक्षण सेंटर के अलावा पेयजल-शौचालय व विश्रामालय की व्यवस्था भी होगी। यहां यात्रियों को आरती दर्शन के पास के अलावा व्हील चेयर इत्यादि की भी नि: शुल्क सुविधा प्राप्त होगी। उन्होंने बताया कि पूर्व से यहां संचालित सहायता केंद्र 18 सौ वर्ग फिट में निर्मित था। इसके कारण स्थानाभाव की समस्या थी।

बताया गया कि यात्री सुविधा केंद्र का निर्माण प्री फैब्रिकेटेड स्ट्रक्चर से किया जाएगा और किसी प्रकार से कांक्रीट का प्रयोग नहीं किया जाएगा। भूमि पूजन जिस स्थान पर किया गया, वह उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की थी जिसे हाल ही में तीर्थ क्षेत्र ने एक करोड़ साठ लाख में खरीदा था। भूमि पूजन में न्यासी डा. अनिल मिश्र , मंदिर निर्माण प्रभारी गोपाल राव, संघ के क्षेत्र सह सम्पर्क प्रमुख मनोज जी, सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी अवनीश अवस्थी, पुजारी रमेश दास, विहिप के मीडिया प्रभारी शरद शर्मा व आचार्य इंद्रदेव मिश्रसहित अन्य लोग मौजूद रहे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें