ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशमनोज और स्‍वामी का हेड क्‍वार्टर एक ही, राज्‍यसभा चुनाव में साथ छोड़ने वालों को अखिलेश ने क्‍या दी चेतावनी 

मनोज और स्‍वामी का हेड क्‍वार्टर एक ही, राज्‍यसभा चुनाव में साथ छोड़ने वालों को अखिलेश ने क्‍या दी चेतावनी 

सपा से इस्‍तीफा देने वाले स्‍वामी प्रसाद मौर्य और मनोज पांडेय के बारे में अखिलेश यादव ने कहा कि ये दोनों नेता क्‍यों गए मुझे क्‍या पता? ऐसा तो नहीं कि दोनों का हेडक्‍वार्टर एक ही रहा हो।

मनोज और स्‍वामी का हेड क्‍वार्टर एक ही, राज्‍यसभा चुनाव में साथ छोड़ने वालों को अखिलेश ने क्‍या दी चेतावनी 
Ajay Singhलाइव हिन्‍दुस्‍तान,लखनऊTue, 27 Feb 2024 03:30 PM
ऐप पर पढ़ें

Akhilesh yadav on Rajya Sabha Election 2024: राज्‍यसभा चुनाव में साथ छोड़ने वाले पार्टी के विधायकों और वरिष्‍ठ नेताओं पर अखिलेश यादव ने प्रतिक्रिया दी है। उन्‍होंने चेतावनी दी कि आने वाले लोकसभा चुनाव में जनता इसका जवाब देगी। पिछले दिनों सपा के राष्‍ट्रीय महासचिव, प्राथमिक सदस्‍यता और एमएलसी पद से इस्‍तीफा देने वाले स्‍वामी प्रसाद मौर्य और मंगलवार को पार्टी के मुख्‍य सचेतक पद से इस्‍तीफा देने वाले मनोज पांडेय के बारे में उन्‍होंने कहा कि ये दोनों नेता क्‍यों गए मुझे क्‍या पता? ऐसा तो नहीं कि दोनों का हेडक्‍वार्टर एक ही रहा हो। अखिलेश ने कहा कि हमने किसी से अप्रोच नहीं किया। मैं नहीं जानता कि कौन कहां गया है। हमारे पास देने को क्‍या है? जो आएगा वो कुछ लेना चाहेगा। 

तमाम कोशिशों के बावजूद मंगलवार को राज्‍यसभा चुनाव के लिए मतदान शुरू होने के बाद अखिलेश अपनी पार्टी में फूट होने से रोक नहीं पाए। सूचना मिली कि सपा के मुख्‍य सचेतक पद से इस्‍तीफा देने के बाद मनोज पांडेय के अलावा राकेश पांडेय, राकेश प्रताप सिंह, अभय सिंह, विनोद चतुर्वेदी और पूजा पाल ने जहां एनडीए के पक्ष में मतदान किया वहीं महाराजी देवी और आशुतोष मौर्य गैरहाजिर रहे। इसी बीच मीडिया ने अखिलेश से बात की तो वे पलटीमार विधायकों पर जमकर बरसे। अखिलेश ने कहा कि हर किसी में साहस नहीं होता है कि सरकार के खिलाफ खड़ा हो जाए। दबाव तो सब पर बनाया जाता है। कौन नहीं जानता है कि बीजेपी जीतने के लिए कोई भी हथकंडा अपनाएगी। चंडीगढ़ मेयर चुनाव में यदि सीसीटीवी कैमरे न होते और बैलेट पेपर से वोट न पड़े होते तो शायद बीजेपी को कोई इस तरह बदनाम होते नहीं देख पाता। 

अखिलेश ने पाला बदलने वाले विधायकों के खिलाफ कार्रवाई के संकेत दिए। साथ ही कहा कि बीजेपी हमारे विधायक ले लेगी। उन्‍हें कुछ लाभ दे देगी। लेकिन हम लोग लोकसभा चुनाव में जनता के बीच में जा रहे हैं। जनता सब देख रही है। यह लोकसभा चुनाव से पहले की लड़ाई थी। हर लोकसभा क्षेत्र में 2.25 लाख वोट तो पेपर लीक से चला गया है। ये क्‍या मुंह लेकर जनता के बीच जाएंगे। पक्‍की नौकरी की जगह अग्निवीर योजना से युवा नाराज हैं। सरकार डरा-धमकाकर, एजेंसियों का भय दिखाकर इनके वोट ले सकती है लेकिन जनता वाले चुनाव में बीजेपी नहीं जीत पाएगी। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें