ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशअखिलेश यादव ने काशी विश्वनाथ मंदिर में लगाई हाजिरी, बताया बाबा से क्या मांगा

अखिलेश यादव ने काशी विश्वनाथ मंदिर में लगाई हाजिरी, बताया बाबा से क्या मांगा

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शुक्रवार को वाराणसी में काशी विश्वनाथ मंदिर में हाजिरी लगाई। यहां बाबा विश्वनाथ का जलाभिषेक कर विधिवत पूजन अर्चन किया। अखिलेश ने बताया कि बाबा से क्या मांगा।

अखिलेश यादव ने काशी विश्वनाथ मंदिर में लगाई हाजिरी, बताया बाबा से क्या मांगा
Yogesh Yadavलाइव हिन्दुस्तान,वाराणसीFri, 10 Feb 2023 11:52 PM
ऐप पर पढ़ें

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शुक्रवार को वाराणसी में काशी विश्वनाथ मंदिर में हाजिरी लगाई। यहां बाबा विश्वनाथ का जलाभिषेक कर विधिवत पूजन अर्चन किया। दर्शन से बाद मीडिया से बात करते हुए यह भी बताया कि उन्होंने बाबा विश्वनाथ से क्या मांगा है। अखिलेश यादव विश्वनाथ मंदिर से पहले गुरुवार की शाम संकटमोचन मंदिर भी पहुंचे।

बलिया और गाजीपुर में विभिन्न कार्यक्रमों में शिरकत करने के बाद अखिलेश दो दिवसीय दौरे पर गुरुवार की दोपहर वाराणसी पहुंचे। शुक्रवार की सुबह उन्होंने बाबा विश्वनाथ के दरबार में हाजिरी लगायी। बनारस की मशहूर पप्पू की कुल्हड़ चाय का स्वाद भी लिया और कचौड़ी सब्जी भी खाई।

काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन के बाद पत्रकारों से बातचीत में उन्होने कहा कि मैंने बाबा से प्रार्थना की है कि आम लोगों का जीवन बेहतर हो। यूपी की सरकार जिस 27 लाख करोड़ रुपए इन्वेस्टमेंट करने की बात कह रही है, वह झूठ न साबित हो। धार्मिक स्थल का मूल स्वरूप बना रहे। 

अखिलेश ने कहा कि यहां जिस कॉरिडोर बनने की चर्चा है उसका प्रस्ताव समाजवादी सरकार की कैबिनेट मीटिंग में आया था। इसके लिए मकान अधग्रिहण का काम भी शुरू हुआ था। भाजपा ने स्थल की सुंदरता, हेरिटेज और इतिहास सबको बर्बाद कर दिया। अखिलेश ने पूछा कि विश्वनाथ धाम परिसर में एक बड़ा पुराना वृक्ष था, उसे क्यों गिरा दिया।

उन्होंने कहा कि देश के सामने महंगाई और बेरोजगारी की बड़ी चुनौती है। न्याय मिलने की उम्मीद नहीं है। किसानों की आय दोगुनी नहीं हुई, बिजली महंगी हो गई है। उन्होंने कहा कि मां गंगा की सफाई कहां हुई। बिना गोमती, वरुणा, यमुना की सफाई के मां गंगा की सफाई नहीं हो सकती है। वरुणा नदी और गोमती नदी की सफाई का कार्य समाजवादी सरकार में शुरू हुआ था। उसे भाजपा ने बर्बाद कर दिया है।

पक्का महाल की कचौड़ी चखी, लस्सी पी

अखिलेश यादव ने शुक्रवार को सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ बनारस को महसूस किया। वह सुबह करीब सवा दस बजे बाबा विश्वनाथ का दर्शन-पूजन करने पहुंचे। फिर पक्के महाल की चुनिंदा दुकानों पर बनारसी खानपान का स्वाद लिया। गुरुवार को अस्सी की अड़ी पर चाय पीने वाले अखिलेश ने शुक्रवार को चौक और ठठेरी बाजार क्षेत्र में जलपान का लुत्फ उठाया। 

अखिलेश यादव ने बाबा विश्वनाथ के षोडशोपचार पूजन के बाद चौखंभा स्थित श्रीराम भंडार पहुंचे। वहां बनारसी कचौड़ी-जलेबी का मजा लिया। इसी मोहल्ले में ख्यात राजाराम की प्राचीन दुकान में लस्सी का स्वाद लिया। दुकानदार के फोटो भी खिचाई। दोनों दुकानदारों से अखिलेश ने कचौड़ी व लस्सी बनाने के तरीकों पर भी चर्चा की।

इसके बाद वह पूर्व एमएलसी काशीनाथ यादव पुत्री के विवाह में शामिल होने मवइयां स्थित बैंक्वेट हाल रवाना हुए। वर-कन्या को आशीर्वाद देने के बाद अखिलेश यादव ने दानुपुर के क्राइस्ट नगर स्थित किचन किंग रेस्टोरेंट में राष्ट्रीय हाकी खिलाड़ी सतीश सिंह सहित अन्य हॉकी खिलाड़ियों से मुलाकात की।

विवेकपुरम कालोनी स्थित शशिप्रताप सिंह से उनके आवास पर शिष्टाचार भेंट की। गए। वहां से बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंचे। वह अपने निजी विमान से दिल्ली चले गए। मैदागिन, कबीरचौरा लहुराबीर, तेलियाबाग, नदेसर, कचहरी, पांडेयपुर, पहड़िया, अकथा में सपा नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया।

विभिन्न स्थानों पर विधायक प्रभुनारायण यादव व ओमप्रकाश सिंह, एमएलसी आशुतोष सिन्हा, किशन दीक्षित, लक्ष्मीकांत कांत मिश्रा उर्फ किशमिश गुरु, प्रदीप कुमार मौर्या, सुजीत यादव, विष्णु शर्मा, मनोज राय धूपचंडी, रीबू श्रीवास्तव, संतोष यादव बबलू, रामकिशुन यादव, आनंद मोहन गुड्डू, अशफाक अहमद डब्लू, पूजा यादव, जितेंद्र यादव, अतहर जमाल लारी, संदीप यादव, अजय चौधरी, दिलीप कश्यप, प्रियांशु यादव, सुजाता यादव, कपिल यादव के नेतृत्व में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें