ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशलोकसभा चुनाव में हार के डर से बीजेपी ने रद्द की RO-ARO परीक्षा, अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर साधा निशाना

लोकसभा चुनाव में हार के डर से बीजेपी ने रद्द की RO-ARO परीक्षा, अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर साधा निशाना

अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा है कि आरओ-एआरओ परीक्षा रद्द होना बताता है कि भाजपा पहले हर संभव गलती छिपाने की कोशिश करती है और जब लोगों का दबाव पड़ता है तो पीछे भी हटती है।

लोकसभा चुनाव में हार के डर से बीजेपी ने रद्द की RO-ARO परीक्षा, अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर साधा निशाना
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,लखनऊSat, 02 Mar 2024 09:55 PM
ऐप पर पढ़ें

अखिलेश ने राज्य सरकार द्वारा भर्ती परीक्षा रद्द किए जाने के चंद घंटों बाद सोशल मीडिया ‘एक्स’ पर पोस्ट किया कि आरओ और एआरओ परीक्षा का रद्द होना बताता है कि भाजपा पहले हर संभव अपनी गलती को छिपाने की कोशिश करती है, लेकिन जब जनता का दबाव पड़ता है तो पीछे भी हटती है। परीक्षा रद्द होना युवाओं की जीत है और आगामी चुनाव में भाजपा की हार का एक और पक्का संदेश। भाजपा की हार का पर्चा लीक हो गया है। उन्होंने नारा दिया भाजपा हटाओ, नौकरी पाओ!

छल-छद्म के सहारे सत्ता के लिए छटपटा रही भाजपा

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि लोकतंत्र और संविधान को बचाने की लड़ाई बड़ी है। भाजपा पर जनता का विश्वास नहीं, साजिशें और छल-छद्म व झूठ की राजनीति के सहारे वह सत्ता पर काबिज होने के लिए छटपटा रही है। भाजपा सरकार 2014 में जिस तरह से सत्ता में आई थी उसी तरह से उत्पीड़न और अपमान से त्रस्त जनता अब 2024 के लोकसभा चुनाव में सत्ता से हटाने का काम करेगी।

अखिलेश ने शनिवार को पार्टी मुख्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा अपने कुप्रचार से लोगों के सोच विचार को भी प्रदूषित करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है। जैसा दाना, वैसा गाना का माहौल बन रहा है। तमाम संस्थानों और माध्यमों पर आरएसएस के लोगों को बैठाया जा रहा है। अर्थव्यवस्था की हकीकत पर पर्दा डाला जा रहा है और झूठे आंकड़ों के बल पर विकसित भारत का भ्रम फैलाया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि सच तो यह है कि जबसे भाजपा सत्ता में आई है महंगाई, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार ही फलफूल रहा है। किसानों के साथ वादों को क्या हुआ? नौजवानों को रोटी-रोजगार से वंचित करने के लिए पेपर लीक का खतरनाक खेल जारी रहता है। भाजपा सरकार के रहते न्याय मिलने की उम्मीद नहीं करनी चाहिए। भाजपा गरीब का वोट लेती है पर उसकी कहीं कोई सुनवाई नहीं होती है। लोगों को समाजवादी पार्टी से बहुत उम्मीदे हैं। भाजपा को गरीबों, किसानों और नौजवानों की कोई चिंता नहीं है। भाजपा पूंजीपतियों की हितैषी है। जनता भाजपा की साजिशों और झूठ-फरेब की राजनीति को बखूबी जान गई है। वह अब भाजपा को सत्ता में फिर से नहीं आने देगी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें