ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशअखिलेश-डिंपल ने डायल-112 की महिला कर्मचारियों को आधी रात बुलाया घर, संग मनाई दिवाली; खत्‍म कराया धरना

अखिलेश-डिंपल ने डायल-112 की महिला कर्मचारियों को आधी रात बुलाया घर, संग मनाई दिवाली; खत्‍म कराया धरना

अखिलेश यादव और उनकी सांसद पत्‍नी डिंपल यादव ने धरने पर बैठीं डायल-112 की महिला कर्मचारियों को करीब आधी रात अपने घर बुलाया। दोनों ने उनके साथ दिवाली मनाई। इसके बाद उनका धरना खत्‍म कराया।

अखिलेश-डिंपल ने डायल-112 की महिला कर्मचारियों को आधी रात बुलाया घर, संग मनाई दिवाली; खत्‍म कराया धरना
Ajay Singhलाइव हिंदुस्‍तान ,लखनऊMon, 13 Nov 2023 09:29 AM
ऐप पर पढ़ें

Akhilesh-Dimple Celebrated Diwali with women employees of Dial-112: सैलरी बढ़ाने की मांग को लेकर लखनऊ में धरना दे रहीं डायल-112 की महिला कर्मचारियों को रविवार की आधी रात को समाजवादी पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अखिलेश यादव और उनकी सांसद पत्‍नी डिंपल यादव ने अपने घर बुलाया। दोनों ने महिला कर्मचारियों के साथ दिवाली मनाई। अखिलेश ने महिला कर्मचारियों को सदन में उनकी आवाज उठाने का वादा किया। इसके बाद कर्मचारियों ने अपना धरना खत्‍म कर दिया। 

अखिलेश ने उनसे कहा कि वह एफआईआर का भी विरोध करेंगे। अखिलेश-डिंपल के घर से महिलाएं अपने परिवारीजनों के साथ घरों को लौट गईं। रविवार को उनके धरने का सातवां दिन था। अखिलेश यादव ने कहा कि संवेदना समाजवादी मूल्‍यों की भावनात्‍मक कोख होती है। बता दें कि अखिलेश ने महिला कर्मचारियों को बुलाने के लिए सपा नेत्री पूजा शुक्‍ला से कहा था। इसके पहले पूजा दिन में महिला कर्मचारियों से मिलने धरनास्‍थल पर पहुंची थीं।

पुलिस ने उन्‍हें गेट पर ही रोक दिया था। इस दौरान आलमबाग के इंस्पेक्टर शिव शंकर महादेवन से उनकी तीखी नोकझोक भी हुई। पूर्व एमएलसी सुनील सिंह साजन, शर्मिला महाजन और मुन्नी पाल, अनिता श्रीवास्तव समेत दो दर्जन महिला कार्यकर्ता भी मिठाई लेकर वहां पहुंचे थे। पुलिस की उनसे भी बातचीत हुई। 

सपा नेताओं ने पुलिस को भरोसा दिया कि वे सिर्फ महिला कर्मियों को मिठाई खिलाएंगे और दिवाली की शुभकामनाएं देंगे। काफी मान-मनौव्‍वल के बाद पुलिस ने इकोगार्डन के गेट पर महिला कर्मियों बुलाया। पूजा शुक्ला ने उन्हें नम आंखों से हाथ उठाकर दीपावली की बधाई दी थी। धरनास्‍थल पर मिठाई भेजकर कहा था कि हक की लड़ाई में बेटी हम बाहर ही बैठे हैं जब तक न्याय नहीं मिलेगा पूजा कहीं नहीं जाएगी।

इसके बाद पूजा इको गार्डन गेट के सामने बने पार्क में महिला कार्यकर्ता के साथ बैठ गईं थीं। शर्मिला महाजन ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा था कि बेटियों को इको गार्डन में कैद कर रखा गया। वे लक्ष्‍मी पूजन कैसे करेंगी। इसके बाद आधी रात के करीब अखिलेश-डिंपल ने महिला कर्मियों को पूजा शुक्‍ला के जरिए अपने घर बुलाकर उनके साथ दिवाली मनाई।