ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशहर सरकारी अस्पताल में प्राइवेट क्लिनिक का दलाल है... अब ब्रजेश पाठक पर बरसे अखिलेश यादव

हर सरकारी अस्पताल में प्राइवेट क्लिनिक का दलाल है... अब ब्रजेश पाठक पर बरसे अखिलेश यादव

आम तौर पर बीजेपी से पिछड़ा वोट वापस खींचने की कोशिश में जुटी समाजवादी पार्टी और उसके अध्यक्ष अखिलेश यादव के निशाने पर यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य रहते हैं जो बीजेपी का ओबीसी चेहरा हैं।

हर सरकारी अस्पताल में प्राइवेट क्लिनिक का दलाल है... अब ब्रजेश पाठक पर बरसे अखिलेश यादव
Ritesh Vermaलाइव हिन्दुस्तान,लखनऊThu, 30 Nov 2023 12:57 PM
ऐप पर पढ़ें

उत्तर प्रदेश में दो लोकसभा और दो विधानसभा चुनाव हार चुकी समाजवादी पार्टी और उसके अध्यक्ष पूर्व सीएम अखिलेश यादव के लिए बीजेपी के ओबीसी चेहरा डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य हमला करने के लिए पसंदीदा विषय वस्तु रहे हैं। लेकिन पिछड़े वोटों को बीजेपी से वापस खींचने की कोशिश में लगे अखिलेश ने बुधवार को दूसरे डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक पर निशाना साध दिया। अखिलेश यादव ने सरकारी अस्पतालों में स्वास्थ्य सेवा की बदहाली का जिक्र करते हुए कहा कि बीजेपी सरकार में हर सरकारी अस्पताल में दलाल बैठा है जो मरीजों को वहां से निजी नर्सिंग होम या प्राइवेट अस्पताल ले जाता है। अखिलेश यादव ने कहा कि प्राइवेट सेक्टर को फायदा पहुंचाने के लिए सरकार जान-बूझकर सरकारी अस्पतालों को बर्बाद कर रही है।

विधानसभा में शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन बुधवार को डेंगू मरीजों के इलाज को लेकर सरकार और विपक्ष के बीच काफी बहस हुई। बहस में एक वक्त ऐसा आया जब सपा विधायक के डेंगू पर सवाल के जवाब में सीएम योगी आदित्यनाथ ने डेंगू, प्लेटलेट वगैरह को इस तरह विस्तार से समझाया कि अखिलेश यादव को कहना पड़ा कि उन्हें थोड़े समय के लिए लगा कि नेता सदन ने एमबीबीएस की डिग्री हासिल कर ली है।

...सीएम MBBS डिग्री हासिल किए हैं, योगी ने डेंगू पर सपा विधायक की लगाई क्लास तो बोले अखिलेश यादव

सदन के बाहर अखिलेश ने मीडिया से कहा- "चाहें वो जिला अस्पताल हों, पीएचसी-सीएचसी हों या मेडिकल कॉलेज हों, सरकार जान-बूझकर सरकारी व्यवस्था को खत्म कर रही है ताकि लोग ज्यादा से ज्यादा प्राइवेट में इलाज कराएं, प्राइवेट नर्सिंग होम में जाएं, प्राइवेट अस्पताल में जाएं। सरकार की जिम्मेदारी है कि गरीब को इलाज सरकारी अस्पताल, मेडिकल कॉलेज में मिले, वो जिम्मेदारी सरकार नहीं निभा रही है।"

सपा अध्यक्ष ने कहा कि कई जगह से सूचना आई है कि सरकार सीधे-सीधे प्राइवेट संस्थानों की मदद करना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि सरकार दावा ये कर रही थी कि मेडिकल कॉलेज बनाएंगे लेकिन सुनने में आ रहा है कि मेडिकल कॉलेजों को भी प्राइवेट हाथों में बेचने की तैयारी है। जिला अस्पताल में दवा तक नहीं मिल पा रहा है। लखनऊ जैसी जगह पर इनकी ही पार्टी के पूर्व सांसद के बेटे को पीजीआई जैसे प्रतिष्ठित संस्थान में इलाज नहीं मिला और उसकी मौत हो गई।

बीजेपी एमएलसी के बेटे की सपा एमएलए की बेटी से शादी, सरकार और विपक्ष के नेताओं का जमावड़ा

अखिलेश ने कहा कि इस सरकार में हर अस्पताल में दलाल बैठे हैं जो प्राइवेट में मरीज को ले जाते हैं। कहीं भी इमरजेंसी में एडमिशन नहीं मिलता है। कई मंत्रियों की ड्यूटी लगाई गई थी कि देखना है कि इमरजेंसी में कोई आएगा तो उसे कैसे एडमिशन कैसे मिलेगा। लेकिन इमरजेंसी में मरीज आ गया तो उसे एडमिशन नहीं मिलता, दलालों के माध्यम से ये सरकार उसे प्राइवेट में भिजवा रही है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें