ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशलखनऊ से अकासा एयरलाइंस की फ्लाइट शुरू, सीएम योगी बोले- 5 अंतराष्ट्रीय एयरपोर्ट वाला बनेगा राज्य

लखनऊ से अकासा एयरलाइंस की फ्लाइट शुरू, सीएम योगी बोले- 5 अंतराष्ट्रीय एयरपोर्ट वाला बनेगा राज्य

लखनऊ से अकासा एयरलाइंस की सेवाएं शुरू होने पर खुशी जाहिर करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जल्द ही उत्तर प्रदेश में पांच अंतराष्ट्रीय एयरपोर्ट होंगे। यूपी में 10 एयरपोर्ट बन रहे हैं।

लखनऊ से अकासा एयरलाइंस की फ्लाइट शुरू, सीएम योगी बोले- 5 अंतराष्ट्रीय एयरपोर्ट वाला बनेगा राज्य
Atul Guptaसंवाददाता,लखनऊSat, 24 Dec 2022 07:59 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ से अकासा एयर की सेवाएं शुरू होने पर खुशी व्यक्त करते हुए शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कहा कि बेंगलुरु-लखनऊ-मुंबई रूट के लिए अकासा एयर उड़ान सेवा शुरू करने जा रही है जिसे इसे वाराणसी से भी जोड़ा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह रूट सर्वाधिक यात्रियों वाला है। यह उत्तर प्रदेशवासियों और अकासा एयर दोनों के लिए अत्यंत उपयोगी सिद्ध होगा। 

सीएम योगी ने कहा कि कहा कि उत्तर प्रदेश जल्द ही 05 अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट वाला राज्य बनने जा रहा है। वर्तमान में वाराणसी, कुशीनगर और लखनऊ इंटरनेशनल एयरपोर्ट क्रियाशील हैं, जबकि जेवर और अयोध्या में एयरपोर्ट का निर्माण जारी है। इस क्षेत्र में अपार संभावनाएं हैं जिसका अकासा एयर को इसका लाभ मिलेगा।

लखनऊ से अकासा एयर की पहली उड़ान शुरू होने की पूर्व संध्या पर एयरलाइंस के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को पहला बोर्डिंग पास (प्रतीकात्मक) प्रदान कर मुख्यमंत्री का अभिवादन किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री नेएयर एशिया के अधिकारियों से वायुयान के मॉडल, रूट, ईंधन, किराया आदि के संबंध में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा प्रारंभ की गई 'उड़ान' योजना का उत्तर प्रदेश ने अत्यधिक लाभ प्राप्त किया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने 'हवाई चप्पल पहनने वाले आम आदमी के हवाई उड़ान' का सपना देखा था, उत्तर प्रदेश में बेहतर होती हवाई सेवाएं, इस स्वप्न के साकार होने जैसी हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि विकास की गति को तेज करने में कनेक्टिविटी का बड़ा योगदान है। इस लिहाज से प्रदेश में एक्सप्रेस वे का निर्माण और अधिकाधिक शहरों को हवाई सेवाओं से जोड़ा जा रहा है। 

यूपी से अब 75 गंतव्यों तक वायुसेवा 

मुख्यमंत्री  ने कहा कि 2017 से पहले प्रदेश में मुख्यतः लखनऊ और वाराणसी में ही एयरपोर्ट थे। गोरखपुर और आगरा में आंशिक रूप से क्रियाशील एयरपोर्ट थे। तब 04 एयरपोर्ट से मात्र 25 गंतव्यों तक वायुसेवा उपलब्ध थी, आज 09 एयरपोर्ट क्रियाशील हैं और 10 पर काम जारी है। आज प्रदेश से 75 गंतव्यों तक वायुसेवा की सुविधा है। वर्ष 2017 के पहले गोरखपुर से दिल्ली तक केवल एक फ्लाइट थी। आज 14 उड़ानें हैं और मैं जब पूछता हूँ तो पता लगता है कि सभी भरकर आती हैं और भरकर ही जाती हैं इसने गोरखपुर के विकास को नई गति दी है।

बन रहे 10 नए एयरपोर्ट 

राज्य सरकार 10 नए एयरपोर्ट का निर्माण करा रही है। अलीगढ़, आज़मगढ़, मुरादाबाद, सहारनपुर, चित्रकूट, श्रावस्ती और सोनभद्र जैसे क्षेत्रों में हवाई सेवा की शुरूआत होने जा रही है। कुछ समय पहले तक यह कल्पनातीत था। 

25 करोड़ प्रदेश वासियों को अच्छी वायुसेवा देना हमारा दायित्व

मुख्यमंत्री ने कहा कि 25 करोड़ प्रदेशवासियों को बेहतर कनेक्टिविटी-अच्छी वायुसेवा देना शासन का दायित्व है। वायुसेवा सामान्य कनेक्टिविटी सुविधा भर नहीं है, बल्कि पर्यटन संवर्धन को भी गति देने में उपयोगी हैं। बेहतर वायुसेवा की प्रधानमंत्री जी की संकल्पना को साकार करने में उत्तर प्रदेश अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान करेगा। इस अवसर पर अकासा एयर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी विनय दुबे, सह-संस्थापक नीलू खत्री, सह संस्थापक प्रवीण अय्यर, उपाध्यक्ष हरजिंदर सिंह सहित अनेक शीर्षस्थ अधिकारी उपस्थित रहे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें