DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › अजीत हत्याकांड: हत्यारोपी कुंटू सिंह के कॉलेज को ध्वस्त होने से बचाने की नई कवायद, छात्रों की गांधीगीरी
उत्तर प्रदेश

अजीत हत्याकांड: हत्यारोपी कुंटू सिंह के कॉलेज को ध्वस्त होने से बचाने की नई कवायद, छात्रों की गांधीगीरी

आजमगढ़ वरिष्ठ संवाददाता Published By: Yogesh Yadav
Wed, 27 Jan 2021 07:28 PM
अजीत हत्याकांड: हत्यारोपी कुंटू सिंह के कॉलेज को ध्वस्त होने से बचाने की नई कवायद, छात्रों की गांधीगीरी

लखनऊ में अजीत सिंह हत्याकांड के आरोपी माफिया ध्रुव कुमार सिंह ऊर्फ कुंटू सिंह के दो कालेजों को ध्वस्त होने से बचाने की की कवायद शुरू हो गई है। यहां के छात्रों ने बुधवार को कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। छात्रों ने अफसरों के बूट पॉलिश करके मेहनताना के रूप में कालेज को कार्रवाई से मुक्त किए जाने की मांग की है। प्रशासन ने पिछले दिनों कुंटू के दोनों कालेजों को सील करते हुए एक के ध्वस्तीकरण की नोटिस चस्पा की थी। 

सगड़ी क्षेत्र के देऊरपुर कमालपुर के रुद्र प्रताप पालीटेक्निक कालेज व गिरजाशंकर सिंह स्मृति महाविद्यालय के छात्र दोपहर लगभग बारह  बजे बूट पालिश का सामान लेकर पहुंच गए। कलक्ट्रेट पर ज्ञापन लेने आए एक अतिरिक्त मजिस्ट्रेट का बूट पॉलिश कर उन्हें ज्ञापन दिया।

रुद्र प्रताप पालीटेक्निक के छात्रों ने कहा कि हम सब का प्रबंधतंत्र से कोई लेना-देना नहीं है। हमने अपनी सुविधा व उज्ज्वल भविष्य के लिए यहां प्रवेश लिया था। लेकिन कुंटू सिंह का संबंध इस विद्यालय से होने के नाते यहां ध्वस्तीकरण की नोटिस चस्पा की गई है। कालेज भी सील कर दिया गया है। छात्रों ने प्रशासन से अपील की कि हमारी पढ़ाई बाधित हो रही है। मेहनताना के रूप में छात्रों ने अपने उज्ज्वल भविष्य की व्यवस्था की मांग की।

छात्रों ने कहा कि कालेज पर कार्रवाई बिना उचित व्यवस्था के न की जाय। उन्होंने पठन-पाठन की व्यवस्था को बहाल करने की मांग की। बता दें कि मऊ जिले के मोहम्मदाबाद प्रमुख के पति अजीत सिंह की छह जनवरी को लखनऊ में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। हत्या में आजमगढ़ के कुंटू सिंह व बनारस के गिरधारी पर नामजद केस दर्ज किया गया था। इसके बाद कुंटू की कई अचल संपत्तियों पर कार्रवाई हो रही है।

संबंधित खबरें