DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  पूर्व दारोगा की हत्या कर थाने पहुंचा बेटा, वारदात का कारण सुन हर कोई अचंभित

उत्तर प्रदेशपूर्व दारोगा की हत्या कर थाने पहुंचा बेटा, वारदात का कारण सुन हर कोई अचंभित

आगरा हिन्दुस्तान टीमPublished By: Yogesh Yadav
Fri, 16 Apr 2021 06:43 PM
पूर्व दारोगा की हत्या कर थाने पहुंचा बेटा, वारदात का कारण सुन हर कोई अचंभित

आगरा के टेढ़ी बगिया के बजरंग नगर में गुरुवार की रात रिटायर दरोगा चोखेलाल बघेल (65) की सिर कुचलकर हत्या कर दी गई। छोटे बेटे देवेश बघेल ने ही वारदात को अंजाम दिया। घटना के बाद वह घर से फरार हो गया। पुलिस उसकी तलाश में जुटी थी। इसी बीच शुक्रवार की सुबह वह खुद थाने पहुंच गया और बताया कि उसने वारदात क्यों की। उसकी बातें सुनकर हर कोई अचंभित रह गया। 

मूलत: हाथरस के गांव ऐहन निवासी चोखेलाल बघेल वर्ष 2017 में फिरोजाबाद से रिटायर हुए थे। उनके तीन बेटे संजय, अजय और देवेश हैं। संजय और अजय विवाहित हैं। पिता ने अपने मकान के बराबर में ही दोनों को घर दिला रखे हैं। वे अपने घरों में थे। इंस्पेक्टर एत्मादुद्दौला संजय कुमार त्यागी ने बताया कि सुबह चार बजकर चालीस मिनट पर पुलिस को चोखेलाल की हत्या की सूचना मिली। पुलिस मौके पर पहुंची। बेटे संजय ने पुलिस को बताया कि छोटे भाई देवेश बघेल ने सुबह उनका दरवाजा खटखटाया। यह बोला कि थाने जा रहा है। उसके बाद चला गया। 

उन्होंने दरवाजा खोला। पिता को देखने आए। कमरे में पिता का खून से लथपथ शव पड़ा था। यह देख वे घबरा गए। पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने बताया कि रिटायर दरोगा की सिर पर डंडे या भारी वस्तु से प्रहार करके हत्या की गई है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने के बाद बेटे की तलाश शुरू कर दी। शुक्रवार की सुबह बेटा खुद थाने पहुंच गया। उसने बताया कि पिता की शक्ल में उसे दो राक्षस दिख रहे थे। इसलिए मैंने राक्षस को मार दिया है। उसकी बातें सुनकर हर को अचंभित रह गया। पुलिस बेटे को गिरफ्तार कर अगली कार्रवाई में जुटी है।

संबंधित खबरें