DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  आगरा : डोनाल्ड ट्रंप के स्वागत में पांच घंटे खड़े रहेंगे 26 हजार स्कूली बच्चे

उत्तर प्रदेशआगरा : डोनाल्ड ट्रंप के स्वागत में पांच घंटे खड़े रहेंगे 26 हजार स्कूली बच्चे

प्रमुख संवाददाता, आगरा।Published By: Shivendra
Fri, 21 Feb 2020 07:56 AM
आगरा : डोनाल्ड ट्रंप के स्वागत में पांच घंटे खड़े रहेंगे 26 हजार स्कूली बच्चे

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का 24 फरवरी को आगरा आगमन प्रस्तावित है। उनके स्वागत में मार्ग पर दोनों तरफ 26 हजार बच्चों को खड़ा रखने की योजना है। बच्चों को जुटाने की जिम्मेदारी शिक्षा विभाग के साथ पुलिस को दी गई है। पुलिस अधिकारी स्कूलों में पहुंचकर बैठकें कर रहे हैं। ट्रंप के स्वागत में स्कूली बच्चे लगभग पांच घंटे खड़े रहेंगे।

डोनाल्ड  ट्रंप शाम करीब 4:30 बजे आगर आएंगे और शाम 6:30 बजे ताजमहल से चल देंगे। खेरिया हवाई अड्डे से ताजमहल की दूरी लगभग 15 किलोमीटर है। उनके स्वागत के लिए अजीतनगर गेट से शिल्पग्राम तक सड़क पर दोनों तरफ स्कूली बच्चों को खड़ा रखने की योजना है। बच्चों के आगमन के समय कोई अव्यवस्था नहीं फैले। बच्चों को जिन वाहनों से लाया जाए उन्हें पार्किंगों में खड़ा कराया जाएगा। इसलिए बच्चों को हर हाल में दोपहर दो बजे तक बुलाने की योजना है। बच्चों के आने के बाद खेरिया से शिल्पग्राम के बीच कोई वाहन नहीं चलने दिया जाएगा। जब ट्रंप आएंगे तो बच्चे स्वागत करेंगे। ट्रंप वापस जाएंगे तो भी बच्चे दिखने चाहिए। बच्चों के हाथों में अमेरिका और भारत के झंडे होंगे। इसलिए बच्चों को ट्रंप के वापस लौटने तक रोका जाएगा। इस तरह बच्चे दोपहर दो बजे आएंगे। शाम सात बजे वापस जाएंगे। पांच घंटे तक बच्चे शोर नहीं मचाएं। गंदगी नहीं करें। कोई हंगामा न हो इसकी जिम्मेदारी स्कूल प्रशासन को दी जा रही है।

बच्चों को लाने के लिए 65 स्कूल चिन्हित
ट्रंप के स्वागत के लिए 26 हजार स्कूली बच्चों का लाने का टारगेट दिया गया है। अभी तक 65 स्कूलों में संपर्क किया गया है। लगभग 15 हजार बच्चे हो रहे हैं। अधिकारियों ने यह तय किया गया है कि 12 साल से कम उम्र के किसी बच्चे को नहीं बुलाया जाएगा। इसलिए कक्षा सात, आठ, नौ और ग्यारह के बच्चों को बुलाया जा रहा है। उनके खाने और पीने का इंतजाम करने की जिम्मेदार प्रशासनिक अधिकारियों को दी गई है।

प्रधानाचार्यों की बैठक आज
बच्चे आएंगे तो कैसा व्यवहार करेंगे। किन बातों का ध्यान रखेंगे। किस सीमारेखा से आगे नहीं जाएंगे। यह सब स्कूलों के प्रधानाचार्यों को बताया जाएगा। इसके लिए आज बैठक बुलाई गई है। वे अपने-अपने स्कूलों में शिक्षकों की मौजूदगी में बच्चों को इसकी जानकारी देंगे। 

गिनकर दिए जाएंगे झंडे
बच्चे तो बच्चे हैं। किसी का झंडा फट गया तो सड़क पर भी फेंक सकता है। ऐसा न हो कोई अमेरिका का झंडा ही फेंक दे। इससे मैसेज गलत जाएगा। इसके लिए तय हुआ है कि झंडे बच्चों को नहीं शिक्षकों को दिए जाएंगे। वह भी गिनकर। वापसी के समय झंडे गिनकर ही वापस लिए जाएंगे।

सत्यापन के बाद आएंगे बच्चे
जो बच्चे ट्रंप के स्वागत के लिए आएंगे, उनकी सूची पहले से पुलिस प्रशासन के पास होगी। 60 से 100 बच्चों को अनुशासन में रखने की जिम्मेदारी दो शिक्षकों पर रहेगी। स्कूल से चलने से पहले और मौके पर पहुंचने के बाद हाजिरी होगी। वाहन चालक का भी पुलिस सत्यापन होगा। वाहन चालक पार्किंग में रहेंगे।

कई स्थानों पर बनाई गई पार्किंग
अजीतनगर गेट से सराय ख्वाजा रेलवे पुल तक जो बच्चे रहेंगे उनके वाहन एफसीआई गोदाम। दूसरी पार्किंग ईदगाह बस स्टैंड। आगरा क्लब, एकलव्य स्पोर्ट्स स्टेडियम, बीएसएनएल ग्राउंड, पीएसी ग्राउंड, ताजनगरी मार्ग, होटल लीला ग्राउंड में कराई जाएगी। 

सुबह से शाम तक नो एंट्री
फतेहाबाद मार्ग पर वाहनों का प्रवेश सुबह नौ बजे से प्रतिबंधित रहेगा। तोरा चौकी, एकता चौकी, पथौली, रोहता चौराहे पर बैरियर लगाए जाएंगे। दोपहर 12 बजे के बाद किसी को फतेहाबाद मार्ग पर क्रास भी नहीं करने दिया जाएगा।

परीक्षार्थियों को नहीं रोकेंगे
जिस मार्ग से ट्रंप की फ्लीट गुजरेगी उस मार्ग पर कुछ स्कूल भी हैं। बोर्ड परीक्षाएं चल रही हैं। दूसरी पाली की परीक्षा में आ रहे परीक्षार्थियों को नहीं रोका जाए। पुलिस को ऐसे निर्देश रहेंगे। किस स्कूल में कौन परीक्षा देगा, इसकी सूची भी बनवाई गई है। यह सूची भी पुलिस के पास रहेगी, ताकि परीक्षार्थियों के अलावा कोई और मार्ग पर नहीं आए।

11 बजे के बाद नहीं जाएगा कैटरिंग का सामान
फतेहाबाद मार्ग पर बड़ी संख्या में मैरिज होम और होटल हैं। सहालग चल रहा है। 24 फरवरी को शादियां भी होंगी। शादियां तो रात में होती हैं। तैयारियां एक दिन पहले से शुरू हो जाती हैं। हलवाई बैठ जाता है। चाहे कैटरिंग दी हो। उन लोगों को दिक्कत नहीं होनी चाहिए। किस मैरिज होम में किसकी शादी है। किस होटल में किसके रिश्तेदार रुके हैं। पुलिस यह भी सूचनाएं जुटा रही है। पुलिस चाहती है कि कैटरिंग वाले और हलवाई सुबह 11 बजे तक सभी सामान मैरिज होम और होटलों तक पहुंचा दें। उसके बाद किसी के वाहन को फतेहाबाद मार्ग से नहीं गुजरने दिया जाएगा।

बाजार खुलने पर होगी चर्चा
ट्रंप के आगमन के समय दुकानें बंद रहेंगी या खुलेंगी। इस पर शनिवार को एडवांस सिक्योरिटी लाइजनिंग के समय चर्चा होगी। कुछ अधिकारी चाहते हैं कि दुकानें खुली रहें। वहीं कुछ चाहते हैं कि दुकानें बंद करा दी जाएं। फिलहाल इतना तय हुआ है कि शिल्पग्राम से ताजमहल पूर्वी गेट के बीच की सभी दुकानें बंद रहेंगी।

संबंधित खबरें