ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशअग्निवीर योजना ने सेना के जवानों को मजदूर बना दिया, राहुल गांधी बोले- सरकार बनते ही खत्म करेंगे

अग्निवीर योजना ने सेना के जवानों को मजदूर बना दिया, राहुल गांधी बोले- सरकार बनते ही खत्म करेंगे

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को बांसगांव में मोदी सरकार पर अग्निवीर योजना को लेकर हमला किया। कहा कि हिंदुस्तान के इतिहास में पहली बार नरेन्द्र मोदी ने सेना के जवानों को मजदूर बना दिया है।

अग्निवीर योजना ने सेना के जवानों को मजदूर बना दिया, राहुल गांधी बोले- सरकार बनते ही खत्म करेंगे
Yogesh Yadavलाइव हिन्दुस्तान,गोरखपुरTue, 28 May 2024 05:42 PM
ऐप पर पढ़ें

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल ने केन्द्र सरकार की अग्निवीर योजना का जिक्र करते हुए तल्ख टिप्पणी की।  राहुल ने कहा कि अग्निवीर योजना सेना की योजना नहीं है। यह योजना मोदी सरकार की योजना है। उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान के इतिहास में पहली बार नरेन्द्र मोदी ने सेना के जवानों को मजदूर बना दिया है। उनको पेंशन देने, शहीद का दर्जा देने और कैंटीन देने के बजाय नरेन्द्र मोदी ने हिंदुस्तान के युवाओं से कहा है कि अगर आप गरीब घर के बेटे हैं और आप सेना में जाते हैं तो आपको न पेंशन मिलेगी, न कैंटीन मिलेगी और अगर आप शहीद होते हैं तो आपको शहीद का दर्जा भी नहीं मिलेगा।

राहुल ने बांसगांव में 'इंडिया' गठबंधन के सहयोगी समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ संयुक्त रैली को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि अमीर घर के बेटों से मोदी कहते हैं कि अगर आप अमीर हैं तो आपको पेंशन मिलेगी, आपको शहीद का दर्जा मिलेगा, आपको कैंटीन मिलेगी, आपके परिवार को सुरक्षा मिलेगी। मैं हिंदुस्तान के युवाओं से कहना चाहता हूं कि अग्निवीर योजना को इंडिया गठबंधन की सरकार फाड़कर कूड़ेदान में फेंकने वाली है। यह सेना की योजना नहीं है। यह नरेन्द्र मोदी जी की योजना है। इससे सेना का, देशभक्तों का और जवानों का अपमान किया जा रहा है इसीलिए हम इस योजना को रद्द करने जा रहे हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि मैं हिंदुस्तान के सभी लोगों से कहना चाहता हूं कि इंडिया गठबंधन दिल से, जान से, खून से संविधान की रक्षा करेगा। हम एक इंच पीछे नहीं हटेंगे। मर जाएंगे, कट जाएंगे लेकिन संविधान को हम नहीं बदलने देंगे। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर दलितों, पिछड़ों और आदिवासियों का आरक्षण खत्म करने की तैयारी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि इंडिया गठबंधन सत्ता में आया तो आरक्षण की सीमा को 50 प्रतिशत से आगे बढ़ाया जाएगा।

राहुल ने कहा कि आज भाजपा के लोग कहते हैं कि हम आंबेडकर जी के काम को उनके सपने को फाड़ कर फेंक देंगे। मैं कहता हूं कि आंबेडकर जी के संविधान को, गांधी जी और नेहरू जी के संविधान को कोई शक्ति फाड़ नहीं सकती।

राहुल ने कहा कि भाजपा कहती है कि दलितों, पिछड़ों और आदिवासियों को आरक्षण नहीं मिलना चाहिए। वह आरक्षण को खत्म करना चाहती है। मैं उन्हें संदेश देना चाहता हूं कि आप संविधान को खत्म नहीं कर पायेंगे। उल्टा हम आरक्षण को 50 प्रतिशत से आगे बढ़ाकर ले जाएंगे। उन्होंने कहा कि आज आरक्षण को 50 प्रतिशत तक की सीमा पर रखा गया है। इंडिया गठबंधन ने अपने घोषणा पत्र में साफ लिखा है कि हमारी सरकार आएगी तो इस 50 प्रतिशत तक की सीमा को हम हटा देंगे और उसे 50 प्रतिशत से ज्यादा बढ़ा देंगे। जहां भी कांग्रेस की सरकार आई है, चाहे छत्तीसगढ़ हो, मध्य प्रदेश हो, हमने यह काम करके दिखाया है और पूरे हिंदुस्तान में हम यह काम करके दिखा देंगे।

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि यह लोकसभा चुनाव विचारधाराओं की लड़ाई है। एक तरफ इंडिया गठबंधन और संविधान है और दूसरी तरफ वे लोग हैं जो इस संविधान को रद्द करना चाहते हैं। भाजपा के नेताओं ने खुलकर कहा है कि हमारी सरकार आएगी तो हम संविधान को खत्म कर देंगे। मैं उन्हें कहना चाहता हूं कि आपकी सरकार नहीं आएगी।

कांग्रेस सांसद ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की बायोलॉजिकल वाली टिप्पणी का जिक्र करते हुए कहा कि नरेन्द्र मोदी कहते हैं कि परमात्मा ने उन्हें हिंदुस्तान भेजा है। मगर (परमात्मा ने) उनको अडाणी की मदद करने के लिए भेजा है, अंबानी की मदद करने के लिए भेजा है। परमात्मा ने उन्हें किसानों और मजदूरों की मदद करने के लिए नहीं भेजा है। (परमात्मा ने उन्हें) जातिवार जनगणना करवाने के लिए नहीं भेजा। यह अजीब सी बात है। अगर सचमुच में परमात्मा ने (सीधे दुनिया में) भेजा होता तो परमात्मा कहते कि तुम हिंदुस्तान के सबसे कमजोर लोगों की मदद करो, कमजोरों, किसानों, मजदूरों और गरीबों की मदद करो।

उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी के परमात्मा ने उनसे कहा है कि मोदी, तुम अडाणी की मदद करो, हिंदुस्तान के सारे के सारे हवाई अड्डे अडाणी को दे दो, हिंदुस्तान के विद्युत संयंत्र अडाणी को दे दो, रेलवे अडाणी को दे दो, अंबानी-अडाणी का 16 लाख करोड़ रुपए कर्ज माफ करो । यह कैसे परमात्मा हैं। यह नरेन्द्र मोदी जी वाले परमात्मा हैं।

राहुल ने कहा कि परमात्मा की बात हो रही है, तो आपने राम मंदिर का उद्घाटन देखा है? राम मंदिर के उद्घाटन में हिंदुस्तान की राष्ट्रपति जो आदिवासी हैं, उनसे कहा जाता है कि आपको नहीं आना है, आपका चेहरा नहीं दिखना चाहिए। राम मंदिर के उद्घाटन में एक भी पिछड़ा वर्ग का व्यक्ति, एक भी दलित, एक भी किसान, एक भी मजदूर नहीं था। वहां अंबानी-अडाणी की सूची लगी थी। वह (मोदी) जो भी करते हैं, अडाणी और अंबानी के लिए करते हैं।

राहुल ने 'इंडिया' गठबंधन की सरकार बनने पर महिलाओं और युवाओं को हर माह धनराशि देने का वादा दोहराते हुए कहा कि यह जो हम आपकी जेब में पैसा डालने जा रहे हैं उसके पीछे एक सोच है। नरेन्द्र मोदी ने 22 अरबपति बनाए। उन्होंने पैसा इंग्लैंड, अमेरिका, जापान और दुबई भेजा। हम आपकी जेब में पैसा डालने जा रहे हैं। आप इस पैसे को गांवों, शहरों और कस्बों में खर्च करेंगे। आप स्कूटर, मोटरसाइकिल खरीदेंगे। मोबाइल फोन और कपड़े खरीदेंगे। जैसे ही आप ये चीज खरीदेंगे, हिंदुस्तान की फैक्टरियां चालू हो जाएंगी और उन फैक्टरियों में हिंदुस्तान के युवाओं को रोजगार मिलना चालू हो जाएंगे।

उन्होंने कहा कि हम हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था को 'जंप स्टार्ट' करने जा रहे हैं। जैसे 'फ्यूल टैंक' में पेट्रोल डाला जाता है, उसके बाद चाबी घुमाई जाती है। वैसे ही हम आपके 'फ्यूल टैंक' में पेट्रोल यानी धन डालेंगे, उसके बाद चाबी घुमाएंगे तो हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था चालू हो जाएगी और आपको रोजगार मिलेगा।

राहुल ने प्रधानमंत्री मोदी के एक पुराने कथित वक्तव्य पर तंज करते हुए कहा, ''नरेन्द्र मोदी ने बेरोजगारी फैलायी। उत्तर प्रदेश के युवाओं को चोट पहुंचाई। आपसे उन्होंने कहा कि युवाओ, आप नाली की ओर जाइए, नाली में पाइप डालिए, नाली में से गैस निकलेगी। पाइप को चूल्हे में लगाइए और पकौड़े बनाइए। उन्होंने समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को लोकसभा चुनाव में पूरी ईमानदारी और लगन से एक-दूसरे की मदद करने के लिये धन्यवाद भी दिया।