ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशअग्निपथ योजना बवाल के बाद कोचिंग सेंटर जीएसटी के रडार पर, 20 लाख टर्नओवर पर लगेगा GST

अग्निपथ योजना बवाल के बाद कोचिंग सेंटर जीएसटी के रडार पर, 20 लाख टर्नओवर पर लगेगा GST

अग्निपथ योजना पर बवाल के बाद मंडल के कोचिंग सेंटर जीएसटी के रडार पर भी आ गए हैं। शासन स्तर से कोचिंग सेंटरों की जीएसटी विभाग को जांच के आदेश दिए गए हैं। 20 लाख से अधिक सालाना टर्न ओवर वाले दें GST।

अग्निपथ योजना बवाल के बाद कोचिंग सेंटर जीएसटी के रडार पर, 20 लाख टर्नओवर पर लगेगा GST
Srishti Kunjलाइव हिन्दुस्तान,अलीगढ़Sun, 26 Jun 2022 06:47 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

अलीगढ़। अग्निपथ योजना पर बवाल के बाद मंडल के कोचिंग सेंटर जीएसटी के रडार पर भी आ गए हैं। शासन स्तर से कोचिंग सेंटरों की जीएसटी विभाग को जांच के आदेश दिए गए हैं। 20 लाख से अधिक सालाना टर्न ओवर वाले कोचिंग सेंटर संचालकों को 18 फीसदी जीएसटी देना होगा। मंडल में करीब 200 से अधिक कोचिंग सेंटर हैं, लेकिन एक भी पंजीकृत अब तक जांच में नहीं मिला है। अग्निपथ सेना भर्ती योजना के आने पर देशभर के विभिन्न हिस्सों में भारी विरोध प्रदर्शन हुआ था। 17 जून को अलीगढ़ में खैर तहसील के जट्टारी व टप्पल में उपद्रवियों ने आग लगा दी थी और बवाल किया था। 

इसके बाद से कोचिंग सेंटर संचालक निशाने पर आ गए थे। शासन ने जीएसटी विभाग को भी कोचिंग सेंटर संचालकों की जांच के निर्देश दिए हैं। मंडल भर में इसकी जांच चल रही है। किस जिले में कितने कोचिंग सेंटर हैं इसमें सेना भर्ती से संबंधित कितने प्रशिक्षण देते हैं और सामान्य कोर्स की तैयारी कराने वाले कितने हैं। अलीगढ़, एटा, हाथरस व कासगंज के जीएसटी अफसर कोचिंग केंद्रों की कुंडली खंगाल रहे हैं।

20 लाख से अधिक टर्न ओवर पर 18 जीएसटी
कोचिंग सेंटरों पर 20 लाख से अधिक के टर्न ओवर पर 18 फीसदी जीएसटी है। शासन ने ऐसे सेंटरों को चिन्हित कर उनकी जांच के निर्देश दिए हैं। अलीगढ़ महानगर में कई बड़े कोचिंग इंस्टीट्यूट हैं जो एक विद्यार्थी से तैयारी कराने के नाम पर लाखों रुपये का सालाना पैकेज लेते हैं। एक-एक कोचिंग सेंटर में 200 से 300 बच्चों की संख्या है जो शिफ्ट में पढ़ाई कराते हैं। 12वीं तक की शिक्षा पर जीएसटी नहीं है। अलीगढ़, एटा, हाथरस व कासगंज में जीएसटी के अफसर कोचिंग सेंटरों की जांच पड़ताल कर रहे हैं। 30 जून तक शासन को रिपोर्ट भेजी जानी है। जांच में अभी तक कोई भी कोचिंग सेंटर जीएसटी में पंजीकृत नहीं मिला है। शिक्षा विभाग से लेकर गोपनीय तरीके से मामले की जांच चल रही है।

एडिशनल कमिश्नर ग्रेड एक अलीगढ़, आरएन शुक्ला ने कहा कि शासन से कोचिंग सेंटरों की जांच के आदेश मिले हैं जिसको लेकर कार्रवाई शुरू की गई है। 20 लाख से अधिक टर्न ओवर वाले कोचिंग सेंटर को 18 फीसदी जीएसटी देनी होगी। मंडल में अधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई है और जल्द ही कार्रवाई पूरी कर ली जाएगी।