ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशछोटे के बाद अब बड़े भाई ने की आत्महत्या, पुलिस के खिलाफ मुकदमा न होने से दुखी था युवक

छोटे के बाद अब बड़े भाई ने की आत्महत्या, पुलिस के खिलाफ मुकदमा न होने से दुखी था युवक

हाथरस पुलिस की प्रताड़ना से क्षुब्ध होकर एक युवक ने फांसी लगाकर जान दे दी। अब सोमवार को उसके बड़े भाई का शव भी खएत में पेड़ से लटका मिला। दोनों की मौत से ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया।

छोटे के बाद अब बड़े भाई ने की आत्महत्या, पुलिस के खिलाफ मुकदमा न होने से दुखी था युवक
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,आगराMon, 24 Jun 2024 10:48 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के आगरा में हाथरस पुलिस के उत्पीड़न से क्षुब्ध होकर एक युवक ने फांसी लगाकर जान दी थी। सोमवार को उसके बड़े भाई प्रमोद सिंह (50) का शव भी खेत में पेड़ पर लटका मिला। उनकी मौत की खबर से ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया। आरोप है कि सादाबाद पुलिस के खिलाफ मुकदमा न लिखा जाने से बड़ा भाई दुखी था। भाई को इंसाफ नहीं दिला पाया इसलिए उसने भी जान दे दी। कई घंटे तक ग्रामीणों ने शव पेड़ से नहीं उतरने दिया।

शनिवार को गांव रूपधनु के रहने वाले संजय सिंह का शव खेत में पेड़ पर लटका मिला था। गांव में हंगामा हुआ था। सादाबाद पुलिस पर उत्पीड़न का आरोप लगाया गया था। परिजनों ने बताया था कि संजय का साला लक्ष्मण किसी लड़की को लेकर चला गया था। पुलिस ने दबिश देकर संजय को उठा लिया था। थाने में दो दिन उसके साथ मारपीट की। एक लाख रुपये की मांग की थी। दो किश्तों में रकम मांगी थी। शनिवार को रकम देने थी। दरोगा ने जेल भेजने की धमकी दी थी। रकम का इंतजाम न होने पर संजय ने खुदकुशी कर ली थी। परिजन सादाबाद थाना पुलिस के खिलाफ मुकदमा लिखाना चाहते थे। आगरा पुलिस ने हंगामे के समय कार्रवाई का आश्वासन देकर भीड़ को शांत कर दिया था। पुलिस मुकदमा नहीं लिख रही थी। 

पुलिस के टॉर्चर से तंग आकर युवक ने उठाया खौफनाक कदम, पेड़ से लटककर की आत्महत्या

आरोप है कि परिजनों को लगातार धमकियां मिल रही थीं। समझौते का दबाव डाला जा रहा था। संजय के बड़े भाई प्रमोद खंदौली थाने में होमगार्ड थे। दिनभर पुलिस के साथ रहते थे। मुसीबत में उसी पुलिस ने उनका साथ नहीं दिया। वह अपने भाई को इंसाफ नहीं दिला पाए। इस कारण बुरी तरह टूट गए थे। सोमवार की दोपहर उन्होंने भी अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। उसी खेत में एक पेड़ पर उनका शव लटका मिला। खुदकुशी की सूचना पर एसीपी एत्मादपुर सुकन्या शर्मा फोर्स के साथ मौके पर पहुंची। ग्रामीण भड़के हुए थे। पुलिस से धक्का मुक्की कर दी। शव नीचे नहीं उतारने दिया। साफ कहा पहले सादाबाद पुलिस आएगी। उसके खिलाफ क्या कार्रवाई हुई बताया जाएगा। उसके बाद शव उतरेगा।