ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशहार के बाद भाजपा में मची रार निचले स्तर पर पहुंची, विधायक पर ब्लॉक प्रमुख ने लगाए गंभीर आरोप

हार के बाद भाजपा में मची रार निचले स्तर पर पहुंची, विधायक पर ब्लॉक प्रमुख ने लगाए गंभीर आरोप

लोकसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद भाजपा की अंतर्कलह जगजाहिर हो चुकी है। जिसमें चुनाव को लेकर भितरघात उभर कर सामने आई। रार मची हुई है। यह रार अब विधायक से ब्लॉक स्तर तक पहुंच गई है।

हार के बाद भाजपा में मची रार निचले स्तर पर पहुंची, विधायक पर ब्लॉक प्रमुख ने लगाए गंभीर आरोप
Yogesh Yadavहिन्दुस्तान,अलीगढ़Sun, 16 Jun 2024 11:19 PM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद भाजपा की अर्न्तकलह जगजाहिर हो चुकी है। जिसमें चुनाव को लेकर भितरघात उभर कर सामने आई। वहीं अब भाजपा से धनीपुर ब्लॉक प्रमुख पूजा दिवाकर ने पार्टी के ही छर्रा विधायक रविन्द्र पाल सिंह व पूर्व ब्लॉक प्रमुख तेजवीर सिंह पर गंभीर आरोप लगाए गए हैं। ब्लॉक प्रमुख ने चेतावनी दी है कि अगर क्षेत्र में होने वाले विकास कार्यों में विधायक व पूर्व ब्लॉक प्रमुख का हस्तक्षेप बंद नहीं हुआ तो वह कठोर कदम उठाने को मजबूर होंगी। मामले की शिकायत शासन, भाजपा शीर्ष नेतृत्व व जिला प्रशासन से भी की गई है। रविवार को स्वर्णजयंती नगर स्थित एक रेस्टोरेंट में आयोजित पत्रकारवार्ता में धनीपुर ब्लॉक प्रमुख पूजा दिवाकर ने आरोप लगाते हुए कहा कि तीन वर्षों से क्षेत्र में होने वाले कार्यों में भाजपा से छर्रा विधायक व पूर्व ब्लॉक प्रमुख धनीपुर की मनमानी चल रही है। जब इसका विरोध किया गया तो टेंडर ही निरस्त करा दिए गए।

कहा कि प्रशासनिक अधिकारियों को भी इसकी सूचना दी गई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। कुछ महीने पहले ब्लाक में लगभग दो करोड़ रुपये के विकास कार्यों का टेंडर निकाला गया। जिसकी पूरी पारदर्शिता पूर्वक निविदा का टेंडर हुआ। आरोप है कि इसे छर्रा विधायक ने निरस्त करवा दिया। हाल में ही लगभग दो करोड़ से भी 26 कार्यों का टेंडर निकाला गया। यह टेंडर खुल भी चुके हैं, फिर से इसकी पारदर्शिता पर विधायक ने सवाल उठाते हुए निरस्त करने की मांग की है। 

सरकारी कर्मचारी भी करते हैं ठेकेदारी
ब्लॉक प्रमुख का आरोप है कि जलनिगम में कार्यरत ट्यूबवेल ऑपरेटर भी ब्लॉक में टेंडर लेकर कार्य कर रहा है। नौकरी के कागजों में कुछ और नाम और ठेकेदारी में कुछ और नाम रखा हुआ है। उन्होंने बताया कि अमृत सरोवर का कार्य ऑनलाइन मिलता है। जिसमें ट्यूबवेल ऑपरेटर को यह टेंडर मिला। भाजपा विधायक ने षड्यंत्र से यह टेंडर दिलवाया है।

मेरे खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने का षड्यंत्र
ब्लाक प्रमुख ने कहा कि विधायक व पूर्व ब्लॉक प्रमुख के साथ कुछ ठेकेदार षड़यंत्र रच रहे हैं। जनता के हित में कार्य नहीं करने दे रहे हैं। जिन क्षेत्र में ज्यादा जररुत है वहां कार्य नहीं हो रहा है। ऐसे में प्रधान व बीडीसी का कार्य बाधित है। उनकी सोच है कि इनका कार्य नहीं होगा। तो वह विरोध करेंगे और अविश्वास प्रस्ताव लाकर प्रमुख का हटा देंगे।
 
गुपचुप निकाले गए टेंडर, नहीं अपनाई पारदर्शिता: छर्रा विधायक
छर्रा विधायक ठा. रविन्द्र पाल सिंह ने आरोंपो पर बोलते हुए कहा कि ब्लॉक प्रमुख द्वारा विकास कार्यों के टेंडर प्रक्रिया में पारदर्शिता नहीं अपनाई गई। राजस्थान व स्थानीय एक समाचार पत्र में गुपचुप तरह से टेंडर निकाले गए। 12 बजे तक टेंडर डालने का समय व दो बजे खुलने का समय दिया। आखिर इतनी जल्दबाजी क्यों की गई। इसकी शिकायत जिला प्रशासन से की। जिसकी शिकायत डीसी मनरेगा ने की तो उन्होंने पाया कि टेंडर प्रक्रिया में नियमों का पालन नहीं किया है। ब्लॉक प्रमुख के जो भी आरोप है, वह बेबुनियाद हैं।

धनीपुर के पूर्व ब्लाक प्रमुख ठा. तेजवीर सिंह ने कहा कि मेरा धनीपुर ब्लाक के कार्यों से कोई मतलब नहीं है। मेरे ऊपर लगाए गए आरोप निराधार है। मौजूदा ब्लाक प्रमुख निष्पक्ष कार्य नहीं कर रही हैं। वह स्वयं टेंडर में मनमानी कर रही हैं।

Advertisement