ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशकरारी हार के बाद बसपा में ओवरहालिंग, वेस्‍ट यूपी के प्रभारी बदले; अब भाजपा की बारी

करारी हार के बाद बसपा में ओवरहालिंग, वेस्‍ट यूपी के प्रभारी बदले; अब भाजपा की बारी

लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद बसपा में समीक्षा शुरू हो चुकी है। पार्टी हाईकमान ने संगठन में फेरबदल शुरू कर दिया है। भाजपा की भी तैयारी है। प्रदेश स्तर से लेकर जिला तक में बदलाव तय माना जा रहा है।

करारी हार के बाद बसपा में ओवरहालिंग, वेस्‍ट यूपी के प्रभारी बदले; अब भाजपा की बारी
Ajay Singhमुख्य संवाददाता,मुरादाबादTue, 11 Jun 2024 09:22 AM
ऐप पर पढ़ें

Action in BSP: लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद बसपा में समीक्षा शुरू हो चुकी है। पार्टी हाईकमान ने संगठन में फेरबदल शुरू कर दिया है। वहीं भाजपा की भी तैयारी है। प्रदेश स्तर से लेकर जिलों तक में बदलाव होना तय माना जा रहा है। लोकसभा चुनाव परिणाम की समीक्षा के दौरान राजनीतिक दल जहां जो खामी महसूस कर रहे हैं वहां उसे दूर करने के लिए अलग-अलग प्वाइंट पर फोकस करते हुए उन्हें दूर करने की रणनीति तैयार की जा रही है।

लोकसभा चुनाव में बुरी तरह से पराजित हुई बसपा ने अपने संगठन में व्यापक बदलाव किया है। बदलाव के क्रम में पश्चिम यूपी प्रभारी को बदल कर बसपा ने अपना इरादा साफ कर दिया है कि संगठन में परिणाम देने वाले लोग ही चल सकेंगे। बसपा ने मुरादाबाद निवासी पूर्व सांसद गिरीश चंद्र जाटव को पश्चिम यूपी का प्रभारी बनाया है। अभी तक पश्चिम यूपी के प्रभारी शमसुद्दीन राईन थे उन्हें हटा दिया गया है। लोकसभा चुनाव में बसपा को तगड़ा झटका लगा है। उसे कभी भी इतने कम वोट नहीं मिले हैं। मुरादाबाद में बसपा प्रत्याशी एक लाख वोट तक नहीं पहुंचा वहीं जिस नगीना सीट से गिरीश चंद्र खुद 2019 में सांसद बने वहां तो और ज्यादा खराब स्थिति रही। आजाद समाज पार्टी के मुखिया चंद्रशेखर की नगीना से जीत ने मायावती को हिला दिया है। 

इसी तरह भाजपा मुरादाबाद सीट एक लाख से ज्यादा मतों से हारी। मुरादाबाद लोकसभा के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में भाजपा प्रत्याशी को हार का सामना करना पड़ा है। इसके साथ ही यूपी में भाजपा का प्रदर्शन बुरी तरह से गड़बड़ा गया। भाजपा में संगठन के लिहाज से बदलाव होना तय माना जा रहा है। पश्चिम यूपी के सभी जिलों में जहां पार्टी का प्रदर्शन आशा अनुरूप नहीं रहा है वहां स्थितियों का आकलन शुरू कर दिया गया है। 

बसपा जिलाध्यक्ष सुनील आजाद ने बताया कि बहन जी ने पश्चिम यूपी प्रभारी की कमान पूर्व सांसद गिरीश चंद को सौंप दी है। वहीं भाजपा नेता अभी इस बारे में बयानबाजी से बच रहे हैं। पर अंदरखाने बदलाव की तैयारी होने लगी है। आने वाले समय में भाजपा में व्यापक बदलाव दिखेगा। 
 
विधानसभावार प्रमुख तीन प्रत्याशियों को मिले मत 
विस क्षेत्र              बसपा               सपा               भाजपा 
बढ़ापुर           18604                103426          99450
कांठ              28613               127838        99599 
ठाकुरद्वारा      18998               124602         111871 
मुरादाबाद ग्रामीण 12501           134058            82588 
मुरादाबाद नगर      13400          146809        136668