ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशVideo: झूठी रिपोर्ट देख कानपुर मेयर का चढ़ा पारा, इंजीनियर के सामने ही घुमाकर फेंक दी फाइल

Video: झूठी रिपोर्ट देख कानपुर मेयर का चढ़ा पारा, इंजीनियर के सामने ही घुमाकर फेंक दी फाइल

कानपुर की महापौर प्रमिला पांडेय बुधवार को इंजीनियरों की कार्य प्रगति देख नाराज हो गईं। उन्होंने नाला सफाई की रिपोर्ट को घुमाकर कर फेंक दिया। साथ ही सख्त लहजे में कहा कि जलभरा हुआ तो उसी डूबोगे।

Video: झूठी रिपोर्ट देख कानपुर मेयर का चढ़ा पारा, इंजीनियर के सामने ही घुमाकर फेंक दी फाइल
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,कानपुरWed, 12 Jun 2024 06:08 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के कानपुर की महापौर प्रमिला पांडेय ने बुधवार को नाला सफाई काउंट डाउन पर इंजीनियरों की बैठक बुला ली। इसमें एक इंजीनियर ने नाला सफाई की झूठी रिपोर्ट दिखाई तो उनका पारा चढ़ गया। मेयर ने इंजीनियर के सामने ही फाइफ घुमाकर फेंक दी। साथ ही सख्त लहजे में कहा कि नाला सफाई काम मई में शुरू हुआ है और रिपोर्ट मार्च की दिखा रहे हो। अगर इस बार भी बारिश में जलभराव हुआ तो तुम उसी में डूबोगे। 

नगर निगम मुख्यालय में महापौर प्रमिला पांडेय ने यह बैठक बुलाई थी। इसमें चीफ इंजीनियर मनीष अवस्थी के साथ ही सारे जोनल अभियंता और अवर अभियंताओं को बुलाया गया था। बैठक में महापौर ने सवाल किया तो एक भी इंजीनियर नाला सफाई के निरीक्षण की अपनी फोटो नहीं दिखा सके। इस पर महापौर ने नाराज हो गईं और उन्होंने कहा कि एक भी इंजीनियर धूप में मौके पर जाना जरूरी नहीं समझते हैं। सभी को एसी में बैठकर नौकरी करना है।

एक इंजीनियर ने जब नाला सफाई की झूठी रिपोर्ट दिखाई तो प्रमिला पांडेय बिफर गईं। उन्होंने फाइल को घुमाकर फेंका जो इंजीनियर के चेहरे के बगल से होता हुआ नीचे जा गिरा। मुख्य अभियंता ने भी इस रिपोर्ट पर कड़ी नाराजगी जताई और इंजीनियर की ओर देखकर आंखें तरेरी। महापौर ने मेट्रो द्वारा शिफ्ट किए गए नालों का जांच के आदेश देते हुए कहा कि वह खुद जाकर इसका जायजा लेंगी।

इंजीनियर को पता ही नहीं कि कहा है  म्योर मिल नाला 

प्रमिला पांडेय ने जोन एक के जोनल इंजीनियर से नाला सफाई की रिपोर्ट मांगी। साथ ही उससे पूछा कि म्योर मिल नाला कहां है। इस पर इंजीनियर बगले झांकने लगा। यह देख महापौर ने नाराजगी भरे लहजे में कहा कि ऐसे ही इंजीनियरों की लापरवाही से शहर में जलभराव होता है। जब इन्हें यही नहीं पता कि म्योर मिल नाला कहां है तो रिपोर्ट में कैसे लिख दिया कि यह नाला पूरी तरह साफ हो गया है।

जलभराव हुआ तो पानी में खड़ा कर दूंगी

महापौर प्रमिला पांडेय ने इंजीनियर को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर बरसात के मौसम में नवीन मार्केट और पीपीएन मार्केट में पानी भरा तो जलभराव के बीच ही तुम्हें खड़ा कर दूंगी। दूसरी ओर जोन दो की समीक्षा में सहायक अभियंता से प्रमिला पांडेय ने जाजमऊ नाले के निर्माण की जानकारी मांगी। इंजीनियर ने बताया कि नाला बना दिया गया है। इस पर महापौर ने मोबाइल से हकीकत खोल डाली उन्होंने कहा कल ही फोटो समेत हकीकत आई है। नाले का काम तत्काल पूरा किया जाए। महापौर ने इंजीनियरों पर तंज कसते हुए कि मौके पर तो वे जाते ही नहीं लेकिन दिखा रहे हैं नाले की सफाई एक नंबर पर चल रही है। बिना अतिक्रमण हटाए ही नाले की सफाई भी कर डाली। जो कि संभव नहीं है।

Advertisement