DA Image
24 जनवरी, 2020|7:42|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी में ब्लू व्हेल गेम के बाद अब पब जी बना खतरा, गुजरात सरकार ने उठाया ये कदम

ब्लू व्हेल के बाद अब पब जी स्कूली बच्चों को अपनी गिरफ्त में ले रहा है।  बच्चे इसके लती हो रहे हैं। ऐसे में जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ. मुकेश कुमार सिंह ने बुधवार को सभी स्कूलों और अभिभावकों को सुझाव जारी कर सतर्क रहने को कहा है। डीआईओएस ने बच्चों को स्मार्ट फोन से दूर रखने के सुझाव दिए हैं। मनोवैज्ञानिकों की सलाह पर यह कार्रवाई की गई है। 

मोबाइल फोन प्रतिबंधित-
स्कूलों में छात्रों के लिए मोबाइल फोन पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिए गए हैं। कई भी छात्र फोन लेकर स्कूल नहीं आएगा। डीआईओएस ने कहा है कि स्कूल में कोई भी बच्चा फोन लेकर नहीं आएगा। स्कूलों की निरीक्षण किया जाएगा। इस दौरान यदि कोई बच्चा फोन के साथ मिला तो उसकी पूरी जिम्मेदारी क्लास टीचर और प्रिंसिपल को होगी।  जिला विद्यालय निरीक्षक ने शिक्षकों और कर्मचारियों को भी सावधान किया है। उन्होंने साफ किया है कि कोई भी शिक्षक बच्चों को एंड्रॉयड फोन पर कुछ नहीं दिखाएंगे। बस ड्राइवर और कंडक्टर के लिए एंड्रॉयड फोन पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिए गए हैं। 

गुजरात सरकार ने लगाई है रोक 
पबजी मोबाइल पर खेला जाने वाला एक गेम है। इसके चलते बच्चे पढ़ाई से भटक रहे हैं। कुछ दिन पहले ही गुजरात सरकार ने बाकायदा नोटिस जारी कर इस गेम पर रोक लगाई है। 

लखनऊ डीआईओएस डॉ. मुकेश कुमार सिंह ने बताया कि मनोवैज्ञानिकों की ओर से बच्चों में पबजी को लेकर बढ़ती लत की शिकायतें सामने आई है। यह बच्चों के विकास पर असर डाल रहा है। इसलिए सावधानी बरतने के सुझाव दिए हैं। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:after blue whale online suicide game pubg challenge