DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

9 साल बाद यमुना में बाढ़ का खतरा, सिंचाई विभाग ने जारी किया हाई अलर्ट

heavy monsoon rain in uttarakhand

पहाड़ों पर मूसलाधार बारिश के बाद आगरा में यमुना में नौ साल बाद बाढ़ के खतरे को लेकर सिंचाई विभाग ने हाई अलर्ट जारी किया है। रविवार को ताजेवाला बैराज (हथिनीकुंड) से यमुना में 8.28 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया। इसके शुक्रवार तक आगरा पहुंचने की संभावना है।

लोअर खंड सिंचाई विभाग के बाढ़ नियंत्रण कक्ष से प्राप्त सूचना के अनुसार, हथिनीकुंड से रविवार सुबह 3.25 लाख क्यूसेक पानी का डिस्चार्ज यमुना में हो रहा था। यह शाम छह बजे 8.28 लाख क्यूसेक हो गया है। इससे यमुना रौद्र रूप धारण कर सकती है। हथिनीकुंड से यह जलराशि तीन दिन में ओखला बैराज पहुंच जाएगी। रविवार को ओखला बैराज से यमुना में 11 हजार क्यूसेक डिस्चार्ज था, जो तीन दिन में बढ़ेगा। मथुरा के गोकुल बैराज से यमुना में नौ हजार क्यूसेक पानी चल रहा है। लगातार बारिश और बैराजों से छोड़े गए पानी के कारण यमुना में बाढ़ का खतरा बन गया है। 2010 में यमुना के निचले इलाकों में बाढ़ जैसे हालात बने थे। दयालबाग, सिकंदरा व बल्केश्वर के निचले इलाकों में पानी भर गया था। फिर नौ साल बाद यमुना के निचले इलाकों में बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है। 

498 तक पहुंच सकती है यमुना

यमुना में बाढ़ का खतरा 499 फीट पर है। सिंचाई विभाग के अलर्ट के मुताबिक, यमुना 498 फीट तक पहुंच सकती है। वाटर वर्क्स पर यमुना का लो फ्लड लेवल 495 फीट है। 

पिनाहट में खतरे के निशान पर चंबल

मध्य प्रदेश और राजस्थान में हो रही बारिश के कारण कोटा बैराज से चंबल नदी में छोड़े गए पानी से पिनाहट और धौलपुर में चंबल खतरे के निशान को पार चुकी है। सिंचाई विभाग के मुताबिक, रविवार को पिनाहट में चंबल का जलस्तर 130.10 मीटर था। यहां खतरे का निशान 130 मीटर पर है। इस तरह चंबल में 10 सेंटीमीटर जलस्तर अधिक है। धौलपुर में चंबल की गैज 137.10 है। यहां गैज 140 होने पर बाढ़ का खतरा हो जाता है।

बैराजों की डिस्चार्ज रिपोर्ट...

- ताजेवाला बैराज (हथिनीकुंड)- 8,28,072
- ओखला बैराज- 9,663
- हिंडन बैराज-2,489
- गोकुल बैराज-9,249

वाटर वर्क्स पर यमुना का जलस्तर- 485 फीट

बाढ़ का निशान- 499 फीट
लो फ्लड लेवल- 495 फीट

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:After 9 years Yamuna flood threat irrigation department issued high alert