DA Image
Monday, November 29, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशहिन्दुस्तान के मामलों में दखलंदाजी न करे पाकिस्तान : ओवैसी

हिन्दुस्तान के मामलों में दखलंदाजी न करे पाकिस्तान : ओवैसी

मुजफ्फरनगर। हिन्दुस्तान टीमDinesh Rathour
Wed, 27 Oct 2021 09:20 PM
हिन्दुस्तान के मामलों में दखलंदाजी न करे पाकिस्तान : ओवैसी

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमिन (एआईएमआईएम) के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने मुजफ्फरनगर दंगे की याद दिलाते हुए प्रदेश की राजनीति में मुस्लिमों के घटते प्रभाव को कांग्रेस, सपा, बसपा व रालोद को जिम्मेदार ठहराया। कहा कि प्रदेश में सपा सरकार के समय में विधानसभा में लगभग 70 मुस्लिम विधायक होने के बावजूद दंगे के समय सभी ने चुप्पी साध ली थी। ओवैसी ने अपील की कि 2022 के विधानसभा चुनावों में मुस्लिम अपनी वोट न बंटने दें, अपना नेता और अपनी सरकार चुनें। उनके प्रतिनिधि विधानसभा में होंगे तो नाइंसाफी नहीं होने देंगे। उन्होंने पाकिस्तान को भी चेताया कि वह हिन्दुस्तान के मामलों में दखलंदाजी न करे। 

सरवट, बझेड़ी रोड स्थित पीठ मैदान में आयोजित शोषित वंचित समाज सम्मेलन में आए असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश में 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ेगी तथा मुजफ्फरनगर में सभी सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारेगी। मुस्लिम समाज ने सपा-बसपा को कई बार वोट देकर सत्ता में पहुंचाया है, लेकिन दोनों पार्टियों ने मुस्लिमों को केवल वोट माना है। मुसलमानों की दुर्दशा किसी से छिपी नहीं है। 

उन्होंने कहा कि मुस्लिमों ने एनआरसी व सीएए का जो विरोध किया, अच्छी बात है। ओवैसी ने कहा कि उन्होंने खुद ससंद में इन काले कानूनों की प्रतियां फाड़ी। विरोध करना हमारा हक है। ब्रिटिश काल में भी महात्मा गांधी ने अंग्रेजों की काले कानूनों की प्रतियां फाड़कर विरोध दर्ज कराया था। कहा- अन्य समाज के लोग जो मुस्लिमों से नफरत करते हैं, उनके कारण चंद मुस्लिम अपने देश के बजाए दूसरे देश का गुणगान करने लगते हैं। क्या देश में होने वाली किसी भी घटना के लिए मुस्लिम ही जिम्मेदार हैं, ऐसा नहीं होना चाहिए। 

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें