ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशअदालत में पेश नहीं हुईं अभिनेत्री जयाप्रदा, कोर्ट ने फिर जारी किया गैर जमानती वारंट

अदालत में पेश नहीं हुईं अभिनेत्री जयाप्रदा, कोर्ट ने फिर जारी किया गैर जमानती वारंट

सिने तारिका एवं पूर्व सांसद जयाप्रदा नाहटा के खिलाफ चुनाव आचार संहिता के दो मामलों में पैरवी करने सुप्रीम कोर्ट से आए अधिवक्ता ने कोर्ट में रीकॉल एप्लीकेशन दाखिल की, जिसे सुनवाई के बाद अदालत...

अदालत में पेश नहीं हुईं अभिनेत्री जयाप्रदा, कोर्ट ने फिर जारी किया गैर जमानती वारंट
Dinesh Rathourवरिष्ठ संवाददाता,रामपुरMon, 11 Dec 2023 08:40 PM
ऐप पर पढ़ें

सिने तारिका एवं पूर्व सांसद जयाप्रदा नाहटा के खिलाफ चुनाव आचार संहिता के दो मामलों में पैरवी करने सुप्रीम कोर्ट से आए अधिवक्ता ने कोर्ट में रीकॉल एप्लीकेशन दाखिल की, जिसे सुनवाई के बाद अदालत ने खारिज कर दिया और फिर से गैर जमानती वारंट जारी कर दिए हैं। पूर्व सांसद जयाप्रदा के खिलाफ आचार संहिता उल्लंघन के मामले वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव के हैं। तब जयाप्रदा रामपुर सीट से भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ी थीं। वह चुनाव हार गई थीं। उनके खिलाफ स्वार और केमरी थाने में चुनाव आचार संहिता उल्लंघन की प्राथमिकी दर्ज की गई थी। इनमें स्वार में दर्ज प्राथमिकी में उन पर आचार संहिता के बावजूद 19 अप्रैल को नूरपुर गांव में सड़क का उद्घाटन करने का आरोप है।

दूसरा मामला केमरी थाने का है, जिसमें उन पर पिपलिया मिश्र गांव में आयोजित जनसभा में आपत्तिजनक टिप्पणी करने का आरोप है। दोनों मामलों में पुलिस ने जांच पूरी कर आरोप पत्र अदालत में दाखिल कर दिए थे। मामले की सुनवाई एमपी-एमएलए स्पेशल कोर्ट (मजिस्ट्रेट ट्रायल) में चल रही है। इन मामलों में पिछली कई तारीखों से जयाप्रदा कोर्ट में पेश नहीं हो रही थीं, जिस पर उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किए गए थे। सोमवार को भी दोनों मामलों में सुनवाई थी। एडीजीसी संदीप सक्सेना ने बताया कि जयाप्रदा की ओर से सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता असगर अली पैरवी करने आए थे। उनके द्वारा वारंट निरस्त कराने के संबंध में प्रार्थना पत्र दिया।

वरिष्ठ अभियोजन अधिकारी अमरनाथ तिवारी की ओर से प्रार्थना पत्र पर आपत्ति दाखिल की गई। आपत्ति पर सुनवाई हुई। जयाप्रदा के अधिवक्ता ने उनके खराब स्वास्थ्य का हवाला दिया, जबकि वरिष्ठ अभियोजन अधिकारी का कहना था कि बार-बार अदालत के बुलाने पर भी वह कोर्ट में हाजिर नहीं हो रही हैं, जिससे मुकदमे के निस्तारण में विलंब हो रहा है। अभियोजन के मुताबिक दोनों पक्षों को सुनने के बाद अदालत ने प्रार्थना पत्र खारिज करते हुए जयाप्रदा के फिर से गैर जमानती वारंट जारी किए हैं। साथ ही उनके जमानती को भी नोटिस जारी किया है। कोर्ट ने अगली सुनवाई के लिए 19 दिसंबर की तारीख मुकर्रर की है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें