DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  20 मई के बाद कमजोर पड़ेगी कोरोना की दूसरी लहर? जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

उत्तर प्रदेश20 मई के बाद कमजोर पड़ेगी कोरोना की दूसरी लहर? जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

वरिष्ठ संवाददाता, कानपुरPublished By: Shivendra Singh
Tue, 04 May 2021 06:46 AM
20 मई के बाद कमजोर पड़ेगी कोरोना की दूसरी लहर? जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

कानपुर में कोरोना की दूसरी लहर का पीक आ चुका है। अब धीरे-धीरे संक्रमण में गिरावट आएगी। 20 मई के बाद कोरोना से राहत मिलने की उम्मीद है। यह दावा है आईआईटी के वरिष्ठ वैज्ञानिक व पद्मश्री प्रो. मणींद्र अग्रवाल का। उन्होंने कंप्यूटिंग मॉडल सूत्र तैयार किया है, जिसमें गणितीय विश्लेषण के आधार पर यह दावा किया है। यह खबर सिर्फ कानपुर के लिए नहीं बल्कि लखनऊ, प्रयागराज व वाराणसी के लिए भी अच्छी खबर है। इस मॉडल के अनुसार इन तीनों शहरों में भी कोरोना का पीक आ चुका है और अब गिरावट दर्ज की जाएगी।

प्रो. मणींद्र अग्रवाल के कंप्यूटिंग मॉडल के अनुरूप अभी तक मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही थी और मृत्यु दर भी अधिक थी। उन्होंने अलग-अलग राज्यों के डाटा के आधार पर यह मॉडल तैयार किया है। इस मॉडल में हर राज्य की अलग स्थिति है। उन्होंने पिछले साल के केस और कोरोना की दूसरी लहर के डाटा के आधार पर मॉडल तैयार किया है। मॉडल के अनुसार कानपुर में 28 अप्रैल तक पीक आना था, इसके बाद गिरावट दर्ज होनी थी। वर्तमान आंकड़ों के मुताबिक 30 अप्रैल तक सबसे अधिक केस रहे, इसके बाद से लगातार गिरावट आ रही है। प्रो. मणींद्र ने कहा कि विश्लेषणात्मक रिपोर्ट और एक्चुअल रिपोर्ट में एक-दो दिन का फर्क बेहद मामूली होता है। हालांकि अभी कई राज्यों में कोरोना संक्रमण का पीक आना बाकी है।

कब आएगा पीक और कब दिखेगा उतार

शहर पीक टाइम कब असर कम दिखेगा
कोलकाता 12 मई 12 मई के बाद
पटना 24-26 अप्रैल 1 जून के आसपास
मुंबई 20-22 अप्रैल 1 जून के आसपास
रांची 24 अप्रैल 1 जून के बाद
सूरत 10 मई 21 जून के आसपास
नोएडा 8-12 मई 12 मई के बाद धीरे-धीरे
कानपुर 28-30 अप्रैल 20 मई के बाद
लखनऊ 28 अप्रैल 20 मई के बाद
प्रयागराज 28 अप्रै 20 मई के बाद
वाराणसी 26-28 अप्रैल 20 मई के बाद

संबंधित खबरें