DA Image
18 सितम्बर, 2020|4:15|IST

अगली स्टोरी

VIDEO : लेडी कांस्टेबल ने शोहदे को सिखाया आन स्पाट सबक, जूते से की पिटाई

पहले निर्भया फिर हैदराबाद के साथ ही उन्नाव कांड ने पूरे देश को झकझोर दिया। उबलते दिल्ली और यूपी के आक्रोश को ठंडा करने वाली हवा हैदराबाद से आई, आन स्पाट सबक। सवालों में घिरी हैदराबाद पुलिस पर जनता ने फूल बरसाए। मंगलवार को ऐसे ही शोहदे को आन स्पाट सबक सिखाने का साहस दिखाया कानपुर की मर्दानी लेडी कांस्टेबल चंचल चौरसिया ने।

घटना बिठूर थाना क्षेत्र की है। एंटीरोमियो टीम को पिछले कई दिनों से शिकायत मिल रही थी कि सड़क किनारे खड़े शोहदे सुबह-सुबह स्कूल जातीं बेटियों पर फब्तियों कसते हैं। शिकायत को गंभीरता से लेते हुए बिठूर थाने की एंटीरोमियो सेल की सिपाही चंचल चौरसिया मंगलवार सुबह-सुबह हकीकत की तहकीकात करने अकेले ही निकाल पड़ीं।

मंधना बिठूर रोड पर उन्हें झुंड में आवारा लड़कों की टोली दिखी जो स्कूल जातीं लड़कियों और मार्निंग वाकर महिलाओं पर फब्तियां कस रहे हैं। यह देख लेडी कास्टेबल जैसे ही शोहदों की टोली की तरफ बढ़ीं कि लड़के इधर-उधर भागने लगे इसी बीच उनकी टोली में शामिल एक अधेड़ उनके हत्थे चढ़ गया। फिर क्या चंचल ने उसे तब तक थप्पड़ जड़े जब तक उसने कबूल नहीं लिया कि वह बच्चियों को छेड़ता है। कबूलनामे के बाद तो जैसे आफत आ गई। चंचल ने अपने जूते से उसकी जबरदस्त पिटाई की और थाने ले आई। घटना के दौरान हर राह चलती बेटी और महिला ने चंचल के साहस को सराहा। कुछ लोगों ने इसका वीडियो बनाया और इसे आन स्पाट सबक के नाम से वायरल करने लगे हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:A woman constable thrashes a man for allegedly harassing girls going to school in kanpur