ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशमुरादाबाद में काशीपुरा हाईवे पर LPG सिलेंडर लदे ट्रक में लगी आग, धमाकों से दहला बड़ा इलाका, घर छोड़कर भागे लोग

मुरादाबाद में काशीपुरा हाईवे पर LPG सिलेंडर लदे ट्रक में लगी आग, धमाकों से दहला बड़ा इलाका, घर छोड़कर भागे लोग

मुरादाबाद में काशीपुरा हाईवे पर शनिवार की दोपहर एलपीजी सिलेंडरों से भरे ट्रक में आग लग गई। इससे पूरा इलाका धमाकों से दहल उठा। आसपाल के लोग घरों को छोड़कर भाग खड़े हुए हैं। कुछ लोग घरों में कैद हैं।

मुरादाबाद में काशीपुरा हाईवे पर LPG सिलेंडर लदे ट्रक में लगी आग, धमाकों से दहला बड़ा इलाका, घर छोड़कर भागे लोग
Yogesh Yadavलाइव हिन्दुस्तान,मुरादाबादSat, 20 Apr 2024 09:14 PM
ऐप पर पढ़ें

मुरादाबाद-रामनगर हाईवे पर भोजपुर थाना क्षेत्र के गांव सिढावली और गुलरिया के बीच शनिवार दोपहर करीब एक बजे रसोई गैस सिलेंडर से भरे ट्रक में आग लग गई। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया। आग की चपेट में आकर सिलेंडर कई-कई मीटर ऊंचाई तक उड़-उड़कर धमाके के साथ फटने लगे। जलते सिलेंडरों के आसपास के खेतों में गिरने से फसलों में भी आग लग गई। धमाकों से हाईवे पर खौफ तारी हो हो गया। दोनों ओर से लोग वाहन बैक करके भागने लगे। आसपास के गांवों में भी धमाके सुनकर लोग दहशत में आ गए। आग के कारण हाई टेंशन लाइन भी जल गई और कम से कम सौ गांवों की बत्ती गुल हो गई। इस बीच मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों ओर से ट्रैफिक रोक दिया। दमकल विभाग की टीमों ने आठ फायर टेंडर की मदद से करीब ढाई घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। जानकार मान रहे हैं कि आसपास आबादी न होने से इस हादसे में बड़ी तबाही बची है।
गाजियाबाद के लोनी से एक ट्रक भारत गैस के 400 सिलेंडर लेकर शनिवार सुबह मुरादाबाद के जटपुरा गांव स्थित सेट्टी गैस एजेंसी के लिए निकला था। बताया गया कि दोपहर करीब एक बजे ट्रक गुलरिया और सिढावली गांव के बीच पहुंचा तो उसके इंटरनल वायरिंग में आग लग गई। हवा के कारण आग टायरों तक पहुंच गई और टायर जलने लगे। पीछे चल रहे एक दूसरे वाहन के चालक ने ट्रक चालक को इसकी जानकारी दी तो चालक ने फौरन ट्रक रोक दिया और एक गन्ने के रस वाले से पानी लेकर आग बुझाने की कोशिश की लेकिन पलक झपकते ही आग विकराल हो गई। आग ने पूरे ट्रक को चपेट में ले लिया। हालात बेकाबू होता देख ट्रक चालक और गन्ने का रस बेचने वाले वहां से भाग खड़े हुए।

उधर, गर्मी पहुंचते ही गैस सिलेंडर भी धमाके के साथ फटने लगे। कुछ सिलेंडर किसी पटाखे की तरह कई-कई मीटर ऊपर जाकर फट रहे थे। एक के बाद एक जलते हुए कई सिलेंडरों के खेतों में गिरने से आसपास गेहूं की खेतों में आग लग गई। सूचना मिलते ही एसएचओ भोजपुर बिजेंद्र सिंह टीम के साथ कुछ ही मिनटों में पहुंच गए लेकिन विकराल आग को देखते हुए कोई आगे बढ़ने की हिम्मत नहीं कर सका। पुलिस ने आनन-फानन में सड़क के दोनों ओर वाहनों को रोक कर अन्य वाहनों को चपेट में आने से बचाया। सिलेंडर के धमकों से आसपास के गांव दहल गए। हादसे की जानकारी होने पर पहुंचे ग्रामीणों ने पेड़ की डालियों और टहनियों की मदद से फसल में लगी आग बुझाने की कोशिश की। हादसे के करीब एक घंटे बाद दमकल विभाग की टीमें मौके पर पहुंची। एसपी देहात संदीप कुमार मीणा, सीओ ठाकुरद्वारा राजेश कुमार तिवारी, एसएचओ भोजपुर बिजेंद्र सिंह, एसओ डिलारी पवन कुमार, एसएचओ भगतपुर कृष्ण कुमार भी अपनी टीम के साथ घटना स्थल पर डटे रहे।

100 गांवों की बिजली आपूर्ति ठप, कई बीघा फसल हुई खाक
भोजपुर। सिलेंडर से भरे ट्रक में आग लगने और धमकों के साथ सिलेंडर फटने से हाईवे किनारे के जंगल में भी आग लग गई। इससे वहां से गुजर रही 11 हजार और 33 हजार की एचटी लाइन भी जल गई। इससे क्षेत्र के करीब 100 गांव में आपूर्ति बाधित हो गई।एसपी देहात संदीप कुमार मीणा ने बताया कि दोपहर करीब एक बजे भोजपुर के सिढावली के पास चलते ट्रक में आग लग गई। चालक ने आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन सफल नहीं हुआ। आग से सिलेंडर धमाके के साथ फट कर दूर तक गिरे, जिससे फसल जली है। करीब ढाई घंटे की मशक्कत के बाद आग पर पूरी तरह काबू पा लिया गया। कोई जनहानि नहीं हुई है। सड़क पर पड़े जले हुए ट्रक और मलबे को हटाकर आवागमन सुचारु कराया गया।