ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशशादी से एक दिन पहले दुल्हन के दरवाजे पर आ गई बारात, आनन-फानन करना पड़ा इंतजाम

शादी से एक दिन पहले दुल्हन के दरवाजे पर आ गई बारात, आनन-फानन करना पड़ा इंतजाम

हमीरपुर में एक अनोखा कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां 27 फरवरी को आने वाली बारात एक दिन पहले दरवाजे पर देखकर लड़की वाले हैरान हो गए। दरअसल, तारीख को लेकर दोनों पक्षों में शुरू से असमंजस थी।

शादी से एक दिन पहले दुल्हन के दरवाजे पर आ गई बारात, आनन-फानन करना पड़ा इंतजाम
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,हमीरपुरWed, 28 Feb 2024 08:22 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के हमीरपुर में एक अनोखा कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां 27 फरवरी को आने वाली बारात एक दिन पहले दरवाजे पर देखकर लड़की वाले हैरान हो गए। शादी की तारीख को लेकर दोनों पक्षों में शुरू से असमंजस की स्थिति थी। लड़की वालों के कार्ड में बारात की तिथि 27 और लड़के वालों के कार्ड में 26 फरवरी दर्ज थी। अचानक बारात आने पर लड़की पक्ष ने आनन-फानन सारी तैयारियां कीं। मंगलवार सुबह शादी की रस्में हुईं और शाम होने से पहले विदाई भी हो गई।                                  

कुरारा ब्लाक के सिकरोढ़ी गांव निवासी स्व.रामफल अनुरागी की बेटी रेखा की शादी सदर कोतवाली के पारा पुरवा गांव के बेटाराम से तय हुई थी। शादी की तारीख 27 फरवरी रखी गई थी। बेटाराम की भाभी कौशिल्या ने बताया कि कार्ड छपाई में 27 की जगह 26 फरवरी की तारीख छप गई। उनके घर में कोई ज्यादा पढ़ा-लिखा नहीं था, इसलिए किसी ने तारीख पर गौर नहीं किया और नाते-रिश्तेदारों को कार्ड बांट दिए गए। तय तिथि से पूर्व ही रिश्तेदारों का आना हो गया और 26 फरवरी को वह लोग बारात लेकर सिकरोढ़ी गांव पहुंच गए। वहां पहुंचने के बाद उन्हें पता चला कि शादी की तारीख 27 फरवरी रखी गई थी।

इधर, एक दिन पहले दरवाजे पर बारात देखकर लड़की वाले हैरान हो गए। गांव निवासी अशोक कुमार पांडेय ने बताया कि रेखा के पिता की मौत हो चुकी है। बारात एक दिन पहले आई तो सारा कार्यक्रम बिगड़ने लगा लेकिन गांव के सभी लोगों ने मिलकर मदद की। रातों-रात बारात के स्वागत-सत्कार की तैयारियां की गईं। हलवाई लगाकर भोजन तैयार कराया गया। इसके बाद द्वारचार और जयमाल की रस्में हुईं। मंगलवार सुबह भांवरें पड़ीं और शाम होते-होते रेखा को हंसी-खुशी विदा किया गया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें