ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश69000 सहायक शिक्षक भर्ती फर्जीवाड़ा, प्रयागराज में बैठकर पूरे सूबे में नकल करा रहा माफिया

69000 सहायक शिक्षक भर्ती फर्जीवाड़ा, प्रयागराज में बैठकर पूरे सूबे में नकल करा रहा माफिया

69000 सहायक शिक्षा भर्ती में गिरफ्तार हुए डॉ. केएल पटेल से जुड़े हैं सॉल्वर गैंग के सदस्य जिनपर नकल कराने का आरोप है। प्रयागराज में बैठकर पूरे सूबे में नकल माफिया करवा रहा था। मामले में केस दर्ज।

69000 सहायक शिक्षक भर्ती फर्जीवाड़ा, प्रयागराज में बैठकर पूरे सूबे में नकल करा रहा माफिया
Srishti Kunjलाइव हिन्दुस्तान,प्रयागराजMon, 01 Aug 2022 07:27 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

प्रयागराज। लेखपाल भर्ती परीक्षा में प्रयागराज से ही प्रदेश के अन्य जिलों में नकल कराई जा रही थी। यहीं पर बैठे सॉल्वर ब्लूटूथ डिवाइस और व्हाट्स एप की मदद से अभ्यर्थियों तक उत्तर पहुंचा रहे थे। इनकी धरपकड़ के बाद ही वाराणसी, कानपुर समेत अन्य जिलों में फर्जीवाड़ा करने वाले अभ्यर्थी पकड़े गए। नकल कराने वाले इन शातिरों के खिलाफ के खिलाफ फाफामऊ, झूंसी और नैनी थाने में एसटीएफ ने मुकदमा दर्ज कराया है। 

लेखपाल भर्ती की इस परीक्षा में डॉ. केएल पटेल का नाम फिर सामने आया है। शिक्षा माफिया डॉ. केएल पटेल 69000 सहायक शिक्षक भर्ती में फर्जीवाड़ा करने के आरोप में गिरफ्तार हुआ था। उस पर गैंगस्टर की कार्रवाई चल रही है। लेखपाल भर्ती परीक्षा में डॉ केएल पटेल का नाम इसलिए सामने आया, क्योंकि इस के गैंग के विजयकांत पटेल और संदीप ने सॉल्वर गैंग की मदद से नकल कराने की कोशिश की। दोनों ही आरोपी केएल पटेल के स्कूल व कॉलेज में नौकरी कर चुके हैं। 

ये भी पढ़ें: UPSSSC Lekhpal: 16 मजिस्ट्रेट, चार एजेंसियां, फिर भी यूपीएसएसएससी लेखपाल परीक्षा में लगी सेंध

प्रयागराज एसटीएफ ने विजयकांत पटेल के गैंग को फाफामऊ से गिरफ्तार किया। पता चला कि विजयकांत प्रयागराज में बैठकर ही वाराणसी और कानपुर में परीक्षा दे रहे अभ्यर्थियों को सॉल्वर की मदद से नकल कर रहा था। इसी सूचना पर दोनों जगहों पर कार्रवाई हुई। इसी तरह संदीप और नरेंद्र को लखनऊ एसटीएफ ने झूंसी से गिरफ्तार किया। इन दोनों पर भी यही आरोप है कि इन्होंने प्रयागराज और वाराणसी समेत अन्य जिलों के अभ्यर्थियों को नकल कराई। इनके मोबाइल पर पुलिस को उत्तर सीट भी मिला है। ब्ल्यूटूथ डिवाइस की मदद से सारा खेल चल रहा था। 

एसटीएफ ने नैनी में कैमरे के सामने किया खुलासा
लखनऊ एसटीएफ ने रविवार को ईश्वर प्रेम विद्या मंदिर में गोल्डेन चिप और ब्लूटूथ डिवाइस की मदद से नकल करते हुए आरोपी दिनेश साहू को कैमरे के सामने गिरफ्तार किया था। कक्ष के अंदर पहुंची एसटीएफ की पूरी कार्रवाई रिकार्ड की गई। दिनेश साहू को कक्ष से बाहर लाया गया। एसटीएफ ने कहा कि चुपचाप अपना डिवाइस निकालकर दे दो नहीं तो उसकी तलाशी ली जाएगी। कमर में छिपाकर रखा चिपकार्ड दिनेश ने एसटीएफ को सौंप दिया। इसके बाद ब्लूटूथ डिवाइस की बरादमगी की।

epaper