4 died after a ambulance collide with animal on Tundla-Agra Highway - यूपी: टूंडला-आगरा हाइवे आवारा जानवर से टकराई एंबुलेंस, चार की मौत DA Image
19 नबम्बर, 2019|4:09|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी: टूंडला-आगरा हाइवे आवारा जानवर से टकराई एंबुलेंस, चार की मौत

Symbolic Image

टूंडला-आगरा हाइवे पर शनिवार रात एक आवारा जानवर आ जाने से चार लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। ब्लॉक कार्यालय के सामने एंबुलेंस जानवर से टकरा कर रोड के दूसरी साइड पर आ गई। उसी समय वहां से एक ट्रक गुजर रहा था, जिसने एंबुलेंस को रौंद दिया। उसमें सवार ड्राइवर सहित चारों लोगों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने एंबुलेंस काटकर शवों को बाहर निकाला। शव पोस्टर्माटम को भेजे गए हैं।

फर्रुखाबाद के शिराजपुर निवासी एंबुलेंस चालक पप्पू आगरा से जलेसर स्टेशन पर एक मरीज को छोड़ने गया था। बताया जाता है कि शाम को चालक एंबुलेंस संख्या UP 80 AY 9746 से  मरीज छोड़ने के बाद टूंडला स्टेशन से तीन सवारियां आगरा के लिए लीं। रात तकरीबन 9.30 बजे वह टूंडला से सवारियां लेकर आगरा के लिए चल दिया। तकरीबन 10.00 बजे एत्मादपुर में ब्लॉक कार्यालय के सामने जैसे ही एंबुलेंस पहुंची, तभी एक आवारा जानवर गाड़ी के सामने आ गया। एंबुलेंस चालक गाड़ी नियंत्रित कर पाता, वह उससे टकराकर हाइवे के दूसरी ओर पहुंच गई। उसी दौरान आगरा की तरफ से सीमेंट लदा ट्रक टूंडला की तरफ जा रहा था। एंबुलेंस टकराकर उसके सामने आकर ट्रक की चपेट में आ गई।

ट्रक की स्पीड तेज होने के कारण एंबुलेंस के परखच्चे उड़ गए। हादसे में एंबुलेंस चालक सहित चारों लोगों की मौके पर मौत हो गई। सूचना पर थाना एत्मादपुर पुलिस मौके पर पहुंच गई। चारों शव बुरी तरह से एंबुलेंस में फंस गए थे। पुलिस ने कटर से चारों शवों को बाहर निकालकर पोस्टमार्टम को भेजा है। मृतकों में चालक के अलावा एक सवारी की शिनाख्त पप्पू पुत्र कामताप्रसाद निवासी रसीदाबाद, अलीगंज और दूसरी की शहाबुद्दीन  पुत्र जमील खां निवासी गांव दारापुर,  फर्रुखाबाद के रूप में हुई है। वहीं एक सवारी की देर रात तक शिनाख्त नहीं हो सकी थी। सीओ एत्मादपुर ने बताया कि शव की शिनाख्त के प्रयास किए जा रहे हैं।

हाइवे पर खतरा बने आवास जानवर
आवारा जानवर ने अब हाइवे पर अपना बसेरा बना लिया है, जो लोगों के लिए खतरा बन गए हैं। स्थिति यह है कि आगरा से लेकर इलाहाबाद तक हाइवे पर जगह-जगह आवारा जानवर झुंड बनाकर हाइवे किनारे बैठे रहते हैं। ऐसे में मजबूरन ब्रेक लगाकर वाहनों को गुजारना पड़ता है। कई बार वाहनों की चपेट में आकर आवारा जानवरों की मौत भी हो जाती है। हर दिन आगरा से इलाहाबाद के बीच 50 से अधिक आवारा जानवर भी दम तोड़ रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:4 died after a ambulance collide with animal on Tundla-Agra Highway