ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशहोली पर यूपी में हादसों में 258 की मौत, चार दर्जन से ज्यादा लोगों त्वचा संबंधी समस्या लेकर अस्पताल पहुंचे

होली पर यूपी में हादसों में 258 की मौत, चार दर्जन से ज्यादा लोगों त्वचा संबंधी समस्या लेकर अस्पताल पहुंचे

होली के हुड़दंग और तेज रफ्तार की मार ने यूपी में 258 लोगों की जान ले ली। लखनऊ और उसके आसपास के जिलों में सबसे अधिक 76 मौतें हुईं। मध्य यूपी और बुंदेलखंड में 70 लोगों ने जान गंवाई।

होली पर यूपी में हादसों में 258 की मौत, चार दर्जन से ज्यादा लोगों त्वचा संबंधी समस्या लेकर अस्पताल पहुंचे
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,लखनऊFri, 10 Mar 2023 06:16 AM
ऐप पर पढ़ें

होली के हुड़दंग और तेज रफ्तार की मार ने यूपी में 258 लोगों की जान ले ली। लखनऊ और उसके आसपास के जिलों में सबसे अधिक 76 मौतें हुईं। मध्य यूपी और बुंदेलखंड में 70 लोगों ने जान गंवाई। बरेली मंडल में 33, गोरखपुर-बस्ती में 25, मेरठ में 19, बृज और प्रयागराज में 12-12 जबकि मुरादाबाद में 11 लोगों ने दम तोड़ा। 

लखनऊ और उसके आसपास के जिलों में 76 मौत हुईं। लखनऊ में 20 लोगों की जान गई इसमें से 12 ने सड़क हादसे में दम तोड़ा। अकेले बाराबंकी में हुए सड़क हादसे में 13 लोगों की मौत हो गई। इसी तरह हादसों में ही अयोध्या में छह व रायबरेली में सात लोगों की मौत हुई है। आठ लोगों की डूबने से दर्दनाक मौत हो गई। होलियारों की मस्ती के चलते ही चार दर्जन से अधिक लोगों को त्वचा संबंधी शिकायतों के चलते अस्पताल का मुंह देखना पड़ा। इसमें 50 फीसदी लोगों को आंखों में रंग जाने के कारण अस्पताल में इलाज कराना पड़ा। 

होली पर बाराबंकी में सबसे अधिक सड़क दुर्घटनाएं हुईं। यहां 13 लोगों की मौत हो गई जबकि 58 लोग घायल हो गए। इसी तरह सड़क हादसों में ही रायबरेली में सात (इनमें तीन की डूबने से मौत) व 36 घायल, सीतापुर में पांच व 27, अयोध्या में छह व 27, सुलतानपुर में छह मी मौत व आधा दर्जन लोग घायल हो गए। इनमें चार की डूबने से मौत हुई है। इसी तरह गोंडा में एक की मौत डूबने और हादसों में दो की मौत व 15 लोग घायल हो गए।

ये भी पढ़ें: महिला अपराधों के निस्तारण में यूपी अव्वल, योगी सरकार ने देश के सभी राज्यों को पीछे छोड़ा

हादसों में ही बहराइच में तीन, श्रावस्ती में दो व अमेठी के अंदर एक को अपनी जान गंवानी पड़ी। आधा दर्जन से अधिक लोगों को डूबने से बचा लिया गया। मध्य उत्तर प्रदेश और बुंदेलखंड में होली के दिन हुए हादसों में 70 लोगों की जान चली गई। गोरखपुर-बस्ती मंडल में हुए हादसों में 25 लोगों की मौत हो गई, जबकि इतने ही घायल हो गए।

इनमें सिद्धार्थनगर के तीन और गोरखपुर के दो लोगों को मिलाकर पांच की मौत नदी में डूबने से हुई, जबकि 15 लोगों की मौत सड़क हादसों और 5 की ट्रेन से कटकर मौत हुई। हादसों में देवरिया में 8, गोरखपुर में 7, बस्ती में 6, संतकबीरनगर और कुशीनगर में दो-दो लोगों की मौत हुई। बस्ती में हुए सड़क हादसे में एक गोण्डा, एक बलरामपुर और देवरिया में ट्रेन की चपेट में आकर मरा युवक बलिया का रहने वाला था।

ब्रज में हादसों में 12 की मौत
ब्रज में होली पर हुए हादसों में 12 लोगों की मौत हो गई। इसमें सर्वाधिक चार मौतें मथुरा, तीन आगरा, दो-दो एटा-फिरोजाबाद और एक मैनपुरी में हुई। इसके अलावा करीब 60 लोग घायल हैं। इनका इलाज चल रहा है। मुरादाबाद मंडल में होली पर हादसों और हुड़दंग में गई 11 की जान गई जबकि 90 लोग घायल हुए।

मेरठ : होली पर हादसों में 19 की मौत 
होली के हुड़दंग के दौरान हादसों से अनेक परिवारों की होली बदरंग हो गई। बागपत में सबसे छह लोगों की मौत हुई। सहारनपुर में चार बिजनौर में तीन, बुलंदशहर चार, मुजफ्फरनगर-शामली में तीन और मेरठ में एक की मौत हुई है।  इसके अलावा, लगभग 90 लोग घायल हैं।

बरेली में हादसों में 33 की मौत
बरेली मंडल में होली पर हुए हादसों में 27 जबकि खीरी में छह की मौत हो गई। इन हादसों में करीब 50 लोग घायल हुए हैं। सभी घायलों का इलाज चल रहा है।

प्रयागराज में 12 की मौत, दर्जनों जख्मी
होली पर जिले में दो दर्जन से अधिक सड़क हादसे हुए। इनमें 12 लोगों की मौत हो गई जबकि दो दर्जन से अधिक लोग जख्मी हैं। पिछले दो दिनों में सड़क हादसों में मारे गए 10 शवों पोस्टमार्टम हुआ। वहीं गुरुवार देर शाम में नैनी में हुए हादसे में होमगार्ड समेत दो अन्य की मौत हो गई। ज्यादातर हादसे तेज रफ्तार में बाइक चलाने वालों के कारण हुई और चालकों का नशे में होना बताया गया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें