ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी के इस जिले में 126 ग्राम पंचायत सहायकों ने दे दिया इस्तीफा, जानें वजह

यूपी के इस जिले में 126 ग्राम पंचायत सहायकों ने दे दिया इस्तीफा, जानें वजह

ग्राम पंचायतों में तैनात पंचायत सहायकों का नौकरी से मोहभंग होने लगा है। शुरूआत में इस नौकरी के लिए गांव के युवाओं ने कड़े जतन किए थे। जिले में 126 ग्राम पंचायत सहायकों ने पंचायत राज विभाग ने अपना...

यूपी के इस जिले में 126 ग्राम पंचायत सहायकों ने दे दिया इस्तीफा, जानें वजह
Dinesh Rathourहिन्दुस्तान,बुलंदशहरSat, 06 Jan 2024 08:29 PM
ऐप पर पढ़ें

ग्राम पंचायतों में तैनात पंचायत सहायकों का नौकरी से मोहभंग होने लगा है। शुरूआत में इस नौकरी के लिए गांव के युवाओं ने कड़े जतन किए थे। जिले में 126 ग्राम पंचायत सहायकों ने पंचायत राज विभाग ने अपना इस्तीफा सौंप दिया है। अधिकतर इस्तीफों में नौकरी छोड़ने का कारण कम मानदेय दिया गया है। ग्राम पंचायतों में शासन ने पंचायतों में पंचायत सहायक रखने के आदेश दिए थे, छह हजार रुपये के मानदेय पर इनका चयन हुआ था। पंचायत राज विभाग ने आरक्षण और शैक्षिणक योग्यता के आधार पर मेरिट बनाकर चयन किया। प्रत्येक वर्ष जिले में बड़ी संख्या में पंचायत सहायक नौकरी से इस्तीफा देते हैं, हालांकि बाद में इनका चयन भी ग्राम पंचायत स्तर पर होता है और कम मानदेय की समस्या रहती है। बताया गया जा रहा है कि अभी और पंचायत सहायकों के इस्तीफे आ सकते हैं।

820 पर रह गए पंचायत सहायक

जिले के 16 ब्लॉक में 946 ग्राम पंचायतें हैं, उक्त सभी में पंचायत सहायक बनाए गए थे। मगर अब 126 ने इस्तीफा दे दिया है तो 820 ग्राम पंचायतों में सहायक रह गए हैं। ऐसे में अब यह गांव बिना पंचायत सहायकों के चल रही हैं, कार्य भी गांवों में प्रभावित हो रहे हैं। डीपीआरओ ने बताया कि शासन को इसके बारे में अवगत करा दिया गया है जल्द ही नए पंचायत सहायकों का चयन कर लिया जाएगा। 

इन ब्लॉकों से आए इस्तीफे 

पंचायत राज विभाग के अनुसार जिले के अगौता, अनूपशहर, अरनियां, बीबीनगर, डिबाई, बुलंदशहर, दानपुर, गुलावठी, जहांगीराबाद, खुर्जा, लखावटी, पहासू, शिकारपुर, सिकंदराबाद, स्याना व ऊंचागांव से 126 पंचायत सहायकों ने इस्तीफे दिए हैं। विभाग के अनुसार कुछ ग्राम पंचायतों में सहायकों को हटाया गया है तो अधिकांश में सहायकों ने कम मानदेय का हवाला देते हुए नौकरी से त्यागपत्र दिया है। 

डीपीआरओ डॉ. प्रीतम सिंह ने बताया, जिले में 126 पंचायत सहायकों ने इस्तीफा दिया है। कम मानदेय और दूसरी जगह नौकरी लगने का कारण इस्तीफे में लिखा गया है। जिन पंचायतों में सहायक पद खाली हैं वहां पर चयन प्रक्रिया के लिए उच्चाधिकारियों से अनुमति ली जाएगी। इसके बाद ही आगे की प्रक्रिया शुरू होगी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें