DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › सोनभद्र › धूमा में ग्रामीणों ने खुली बैठक का बहिष्कार किया
सोनभद्र

धूमा में ग्रामीणों ने खुली बैठक का बहिष्कार किया

हिन्दुस्तान टीम,सोनभद्रPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 09:20 PM
धूमा में ग्रामीणों ने खुली बैठक का बहिष्कार किया

विण्ढमगंज। विकासखंड दुद्धी के अंतर्गत ग्राम पंचायत धूमा में रविवार को हुई खुली बैठक का ग्रामीणों ने बहिष्कार किया। कमलेश भुईया की अगुवाई में ग्रमीणों ने ग्राम प्रधान के द्वारा मनमानी पूर्ण रवैए से खुली बैठक कराने का बहिष्कार किया। बीडीओ को पत्र के माध्यम से पुन: सक्षम अधिकारी की मौजूदगी में खुली बैठक कराने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। उधर, प्रधान ने बैठक शांतिपूर्ण तरीके से होने का दावा किया।

मौके पर मौजूद अशोक कुमार, संतोष कुमार, कृष्ण मुरारी गुप्ता, बद्री नारायण निराला, सतीश चंद्र ने आरोप लगया कि ग्राम प्रधान राम प्रसाद यादव बिना पिछले कार्यों की पुष्टि किए ही मनमानी तरीके से खुली बैठक में सिर्फ अपने पक्ष के लोगों को ही कार्ययोजना में ले रहे हैं। बहिष्कार को लेकर बैठक में झड़प होने के कारण भगदड़ की स्थिति उत्पन्न हो गई। इस मौके पर सतीशचंद, प्यारे मोहन, आनंदपाल, रामविचार, प्रेमचंद भुईया, अशोक कुमार भारती, मनोज कुमार भुईया, शिवकुमार भुईया, अनीता देवी, विक्रम यादव, नागेंद्र कुमार, रामविचार, बद्रीनारायण, मोतीलाल, मानमती देवी, समुद्री देवी, ललिता देवी, मालती देवी, अनीता देवी, इंद्रावती देवी, दशरथ, मनोज यादव सहित दर्जनों लोगों ने विरोध व्यक्त करते हुए सक्षम अधिकारी के बीच खुली बैठक कराए जाने की मांग की। ग्राम प्रधान राम प्रसाद यादव ने सेल फोन पर कहा कि ग्राम धूमा के पंचायत भवन प्रांगण में रविवार की सुबह दस से शाम पांच बजे तक शांतिपूर्ण तरीके से खुली बैठक कराया गया है। इसमें कुछ असामाजिक तत्व बैठक समाप्ति होने के दौरान ही शाम पांच आकर अभद्रता किए। खुली बैठक में पंचायत के हर इलाके से मौजूद सैकड़ों महिला पुरुषों के बीच विकास से संबंधित प्रस्ताव लिए गए हैं। कुछ लोग विकास कार्यों में बाधा डालने की नीयत से काम कर रहे हैं जिनका मुंहतोड़ जवाब ग्रामीण जनता खुद देगी।

संबंधित खबरें