ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश सोनभद्ररेलवे क्रासिंग बंद होने से 25 गांवों की आबादी प्रभावित

रेलवे क्रासिंग बंद होने से 25 गांवों की आबादी प्रभावित

करमा बाजार के समीप घोरावल राजवाहा पर बने रेलवे क्रासिंग को बंद कर दिए जाने से लगभग 25 गांवों की आबादी प्रभावित हुई है। लोगों को करीब छह किमी अधिक...

रेलवे क्रासिंग बंद होने से 25 गांवों की आबादी प्रभावित
हिन्दुस्तान टीम,सोनभद्रMon, 20 May 2024 01:00 AM
ऐप पर पढ़ें

करमा, हिन्दुस्तान संवाद। करमा बाजार के समीप घोरावल राजवाहा पर बने रेलवे क्रासिंग को बंद कर दिए जाने से लगभग 25 गांवों की आबादी प्रभावित हुई है। लोगों को करीब छह किमी अधिक की दूरी तय करनी पड़ती है।
इसी रेलवे क्रासिंग से ब्लाक, तहसील मुख्यालय, बैंक, बाबा बिहारी इंटर कालेज भरकवाह, मोती सिंह इंटर कालेज धौरहरा, डा. राम मनोहर लोहिया महाविद्यालय डिलाही, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र भरकवाह, किसान सेवा सहकारी समिति, थाना करमा आदि दैनिक कार्य के लिए सैकड़ों लोगों का आना जाना होता है। मधुपुर से घोरावल तहसील को जोड़ने वाला महत्वपूर्ण मार्ग की उपयोगिता का क्रासिंग बंद हो जाने से कोई सरोकार आम जन जीवन से नहीं रह गया है। घोरावल तहसील मुख्यालय को जोड़ने वाला यह मार्ग पड़रवा से मड़िहान जाने वाली घाघर नहर से होते हुए हिनौता गाव से मदैनियां होकर मिर्जापुर-सोनभद्र मुख्य मार्ग में मिलाया गया है। मार्ग बंद किए गए रेलवे क्रासिंग से सीधे करमा बाजार तक पहुंचता तो लोगों को आवागमन में काफी सुविधा और समय की बचत होती और मधुपुर से सीधे घोरावल तहसील तक सवारी वाहन उपलब्ध हो जाते। घोरावल राजवाहा पर बने रेलवे क्रासिंग पर जब से रेलवे पटरी बिछायी गयी थी तभी से रेलवे विभाग ने फाटक लगा दिया था और नहर विभाग ने फाटक को खोलने और बंद करने के लिए अपना स्थाई कर्मचारी तौनात कर रखा था। लगभग सात वर्ष पूर्व अचानक रेलवे विभाग ने क्रासिंग पर लगा फाटक उखाड़ कर उठा ले गया और पीलर खड़ा करके आवागमन बंद कर दिया। जिस पर नहर विभाग ने अपने कर्मचारी को दूसरे जगह तैनात कर दिया। रेलवे क्रासिंग अचानक बंद किये जाने से मिर्जापुर एवं सोनभद्र के आसपास गांवों के सैकड़ों लोगों ने एक जुटता दिखाते हुए जमकर विरोध किया था, लेकिन कहीं सुनवायी नहीं हुई। जिसके चलते बाइक सवार जान जोखिम में डालकर रेलवे लाइन को पार करते हैं।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।