DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

VIDEO सोनभद्र के उभ्भा गांव पहुंचे सीएम योगी, कहा जो जैसे खेती कर रहा था, वैसे ही करता रहेगा

दस लोगों की हत्या से चर्चा मेंं आए सोनभद्र के उभ्भा गांव में रविवार की सुबह यूपी के सीएम योगी अादित्यनाथ पहुंचे। सबसे पहले योगी पीड़ितों से मिले अौर घटना की जानकारी ली। जिस स्थान पर एक साथ दस लोगों की हत्या हुई थी, उसका भी दौरा किया। कुछ चश्मदीदों से भी सीएम योगी ने बातचीत की।

मुख्यमंत्री ने पीड़ितों को हर सम्भव सहयोग का आश्वासन दिया। विवादित जमीन को लेकर आदिवासियों को राहत भी दी। सीएम ने कहा कि जो जैसे खेती कर रहा था, वह वैसे खेती करता रहेगा। कहा कि मृतक आश्रितों को 18.50 लाख और घायलों को 4.50 लाख का मुआवजा मिलेगा। 

मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पर साधा निशाना

उभ्भा गांव में सीएम योगी ने कहा कि कांग्रेस के पाप का फल आदिवासियों को भोगना पड़ा। सपा के नेताओं के प्रश्रय से घटना को अंजाम दिया गया। उन्होंने कहा कि उभ्भा गांव में पुलिस चौकी के साथ ही आंगनबाड़ी केंद्र व जूनियर हाईस्कूल भी खुलेगा। उन्होंने मृतक आश्रितों व घायलों से बोले कि घबराओ मत, अब मैं आ गया हूं। किसी के कंधे तो किसी के सिर पर हाथ रख के ढांढस बंधाया। बुजुर्गोंं से हाथ जोड़ कर विनम्रता से झुक कर मिले।

सीएम योगी कुछ देर बच्चों में खो गए। मासूम बच्चों को गोद मे उठाया, हाल पूछा अौर युवतियों को पुलिस में जाने को प्रेरित किया। सीएम योगी ने कहा कि कागज से छेड़छाड़ की जांच हो रही है। 2019 में कैसे दाखिल खारिज हुआ इसकी भी जांच कराएंगे। 1953 और 1989 में हुए निर्णयों की भी जांच होगी। सीएम योगी ने कहा कि बीएचयू अौर जिला असपताल में भर्ती घायलों के इलाज का खर्च भी सरकार उठायेगी।

उभ्भा गांव से से सीएम योगी जिला अस्पताल पहुंचे अौर घायलों को अपने हाथ से 50-50 हजार का चेक दिया। गंभीर रूप से घायल कई लोगों को बीएचयू के ट्रामा सेंटर अौर कुछ लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मुख्यमंत्री के साथ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, कई विधायक, डीजीपी ओपी सिंह, एडीजी वाराणसी ब्रजभूषण सिंह, आईजी मिर्जापुर पियूष श्रीवास्तव समेत कई पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद रहे। सीएम योगी के पहुंचने से पहले विऱोध की आशंका में कई सपाइय़ों को गिरफ्तार भी किया गया है। 

प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कसा तंज 
सीएम योगी के सोनभद्र पहुंचते ही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर तंज कसते हुए कहा कि उप्र के माननीय मुख्यमंत्री के सोनभद्र जाने का मैं स्वागत करती हूँ। देर से ही सही, पीड़ितों के साथ खड़ा होना सरकार का फर्ज़ है। अपना फर्ज़ पहचानना अच्छा है। उम्भा को लम्बे समय से न्याय की प्रतीक्षा है। अपेक्षा है उम्भा के पीड़ितों को न्याय मिलेगा और उनकी 5 माँगो को माना जाएगा। प्रियंका गांधी को सोनभद्र के उभ्भा गांव में पीड़ितों से मिलने जाते समय शुक्रवार की दोपहर हिरासत में लिया गया था। शनिवार को पीड़ितों से चुनार के किले में मुलाकात के बाद ही प्रियंका यहां से लौटी थीं। 
 

यह है मामला
17 जुलाई को सोनभद्र में घोरावल के उभ्भा गांव में 112 बीघा खेत के लिए दस ग्रामीणों को मौत के घाट उतार दिया गया था। लगभग चार करोड़ रुपए की कीमत की इस जमीन के लिए प्रधान और उसके पक्ष ने ग्रामीणों पर अंधाधुन फायरिंग कर दी थी। इस हादसे में 25 अन्य लोग घायल हो गए थे।

ऐसे हुई थी घटना
सोनभद्र में घोरावल के उम्भा गांव में 112 बीघा खेत जोतने के लिए गांव का प्रधान यज्ञदत्त गुर्जर 32 ट्रैक्टर लेकर पहुंचा था। इन ट्रैक्टरों पर लगभग 60 से 70 लोग सवार थे। यह लोग अपने साथ लाठी-डंडा, भाला-बल्लम और राइफल और बंदूक लेकर आए थे। गांव में पहुंचते ही इन लोगों ने ट्रैक्टरों से खेत जोतना शुरू कर दिया। जब ग्रामीणों ने विरोध किया तो यज्ञदत्त और उनके लोगों ने ग्रामीणों पर लाठी-डंडा, भाला-बल्लम के साथ ही राइफल और बंदूक से भी गोलियां चलानी शुरू कर दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The CM Yogi who arrived at Ubhabh village of Sonbhadra said as he was farming will do the same