DA Image
2 अगस्त, 2020|11:50|IST

अगली स्टोरी

कामर्शियल माइनिंग के विरोध में 18 को हड़ताल

कामर्शियल माइनिंग के विरोध में 18 को हड़ताल

कोल इंडिया में कामर्शियल माइनिंग का विरोध थमने का नाम नही ले रहा। जुलाई में तीन दिवसीय हड़ताल के बाद अब एक बार फिर बीएमएस,एटक,इंटक,एसएमएस , सीटू के संयुकत महासंघ ने आगामी 18 अगस्त को हड़ताल की नोटिस दे दी है। शनिवार की शाम कामर्शियल माइनिंग का आदेश वापस लेने समेत 6 सूत्रीय मांगों को लेकर कोयला सचिव को सम्बोधित हड़ताल की नोटिस विभिन्न परियोजनाओं के महा प्रबन्धको और एनसीएल मुख्याल प्रबन्धन को सौंप को दी गयी । एक दिवसीय हड़ताल पूरे कोलइंडिया में होगी । एनसीएल स्तर पर सभी प्रमुख संगठन के पदाधिकारी बीएमएस से मुन्नीलाल यादव, महामंत्री पी के सिंह, इंटक से बीरेन्द्र सिंह बिष्ट,एचएमएस से मोनी मिश्रा , सीटू के प्रतिनिधि, एससी एसटी व ओबीसी संगठन से जय बहादुर सिंह, मुख्यालय से पंकज राय, भोलानाथ भारती, बी के सिंह आदि पदाधिकारी उपस्थित रहे । इसी प्रकार से केंद्रीय महासंघ की हड़ताल की नोटिस परियोजना के महाप्रबंधक के माध्यम से प्रेषित की गई। अमलोरी में डीपी दुबे, एन के सिंह, निगाही में राकेश पाण्डेय, तिजू लाल, राजा राम मरावी,दिलीप पांडेय,रमन कुमार आदि सहित समस्त परियोजनाओ में समस्त संगठन के पदाधिकारी उपस्थि रहे ।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Strike on 18 in protest against commercial mining