DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुख्यमंत्री पोर्टल पर शिकायत के बाद बन गया राशन कार्ड

दुद्धी ब्लाक के डुमरडीहा गांव निवासी विजय सिंह पुत्र महेश्वर की फरियाद जब किसी ने नहीं सुनी तो उन्होंने मुख्यमंत्री से पोर्टल पर शिकायत राशन कार्ड व आवास की मांग की। मुख्यमंत्री से शिकायत के बाद ही विजय सिंह का राशन कार्ड भी बन गया और आवास की सूची में भी नाम शामिल कर लिया गया। 

विजय सिंह ने बताया कि उन्होंने राशन कार्ड और आवास के लिए तहसील दिवस, ब्लाक कार्यालय, ग्राम प्रधान व सचिव से कई बार प्रार्थना पत्र देकर गुहार लगाई। लेकिन उनकी किसी ने एक नहीं सुनी। अधिकारियों के कार्यालय का चक्कर काटने के बाद वे थकहार कर घर बैठ गए। उन्होंने इसकी शिकायत मुख्यमंत्री पोर्टल पर की। 

मुख्यमंत्री पोर्टल के माध्यम से ग्राम विकास विभाग के प्रमुख सचिव ने सीडीओ सोनभद्र को आवश्यक कार्यवाही के लिए निर्देशित किया। सीडीओ के निर्देश को संज्ञान लेते हुए बीडीओ ने मामले की जांच एडीओ कृषि सुदामा प्रसाद से कराई। पात्र पाये जाने पर आनन-फानन में सेक्रेटरी एचएन सिंह ने शिकायतकर्ता विजय सिंह को बुलाकर आधार कार्ड आदि जमा कराया। 

विजय सिंह ने बताया की जब मोबाईल पर पोर्टल से एसएमएस आया कि आपके मामले का निस्तारण हो गया है। उन्होंने मोबाइल एप पर जब निस्तारण देखा तो उसमे खण्ड विकास अधिकारी ने लिखा है कि शिकायतकर्ता का 3 यूनिट का पात्र गृहस्थी का राशन कार्ड में और  प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए बनी सूची में नाम शामिल कर लिया गया है।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Ration card created after complaint on CM portal