DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तीन बार सांसद रहे रामशकल राज्यसभा सदस्य नामित

रामशकल

 उत्तर प्रदेश की आखिरी लोकसभा सीट राबर्ट्सगंज से लगातार तीन बार सांसद हर चुके रामशकल को राज्यसभा का सदस्य नामित किया गया है।  उनके मनोनयन से भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ जनपद वासियों में हर्ष व्याप्त है।

मूल रूप से जनपद सोनभद्र के घोरावल तहसील अन्तर्गत शिल्पी गांव में रहने वाले किसान नेता रामशकल पुत्र स्व.राजाराम का जन्म 21 मार्च वर्ष 1963 में हुआ। वर्ष 1986 में एमए (राजनीतिशास्त्र)उत्तीर्ण की। इन्होंने इमरजेंसी के दौरान वर्ष 1974 से ही संघ से जुड़े। 1986 से 1996 तक आरएसएस (संघ)के क्षेत्रीय प्रचारक रहे। इन्होंने पहली बार 1996 में राबर्ट्सगंज लोकसभा सीट से चुनाव लड़ी और जीत हासिल की। वर्ष 1998 और 1999 में भी इसी सीट से जीत हासिल कर लगातार तीन बार सांसद रहे। 2004 में पुन: रामशकल जी ने लोकसभा चुनाव लड़े पर उन्हे पराजय मिली।

अति पिछड़े जनपद सोनभद्र से राज्यसभा सांसद मनोनीत किए जाने पर रामशकल जी ने बताया कि उनकी प्राथमिक जनपद में शिक्षा व्यवस्था पर होगा। जनपद में मेडिकल कालेज और इंजीनियरिंग कालेज खोले जाने के लिए प्रयास किया जायेगा।

राज्यसभा सांसद मनोनीत होने वाले जिले के पहले शख्स बने

नीति आयोग के लिस्ट में अति पिछड़े जिले में शामिल जनपद सोनभद्र से राज्यसभा सांसद मनोनीत होने वाले रामशकल पहले शख्स बन गये है। अब तक जनपद से किसी दूसरे जनप्रतिनिधि को राज्यसभा सांसद मनोनीत का मौका नहीं मिला है। राज्यसभा में अति पिछड़े जनपद सोनभद्र का प्रतिनिधित्व करने से निश्चित ही यहां के विकास की तस्वीर बदलेगी। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Ramshakal Rajya Sabha member nominated