अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कनहर नदी उफान पर, पुलिया बही, खेत डूबे

पिछले दिनों सोनभद्र और छत्तीसगढ़ में हुई भारी बारिश के कारण कनहर नदी उफान पर है। उफान के कारण कनहर नदी का पानी तटवर्ती गांवों के खेतों में पहुंचने लगा है। विंढमगंज थाना क्षेत्र के महुली-जोरकहू संपर्क मार्ग पर स्थित जोरकहू मुख्य पिकनिक स्थल के चिखुरि नाला के पास बनी पुलिया रविवार की देर रात बह गई। इससे कई गांवों के लोगों का आवागमन प्रभावित हो गया है। उधर, बाढ़ की आशंका के मद्देनजर कनहर नदी के तट पर स्थित गांवों में भय है। कुछ गांव के लोगों ने एहतियातन अपने सामान और पशु सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट कर दिए हैं। कनहर नदी के उफनाए पानी की चपेट में आने से चिखुरि नाले के पास बनी पुलिया रविवार के रविवार की देर रात बहने से जोरकहू, नवाटोलाबासिन, बोधाडीह, गुलरिया आदि गांवों का आवागमन प्रभावित हो गया है। यदि किसी को बहुत जरूरी कार्य से जाना है तो वह जंगलों के रास्ते पहाड़ियों से होता हुआ पैदल ही जा आ रहा है। नदी के पानी से डूमरा निवासी राजबलिं मौर्या का खेत डूब गया है। पानी के साथ खेत में आए बालू के कारण खेत में लगी लौकी, भिण्डी और करैला आदि सब्जियां खराब हो गई हैं। कनहर नदी के तटवर्ती क्षेत्र के गांव नगवां, टेढ़ा, कालींजर, पकरी, देवढ़ी, रजथन, डुमरा, जोरकहू आदि गांव के ग्रामीण बाढ़ की आशंका से भयभीत हैं। इसमें से कुछ गांवों के लोगों ने अपने पशु और अन्य सामान कनहर नदी से दूर पड़ने वाले गांवों में अपनी रिश्तेदारी में शिफ्ट कर दिए हैं। भगवान भरोसे मरीज़ महुली। अगर दुद्धी थाना क्षेत्र के जोरकहु ,नवाटोला बासिन आदि गांव में यदि कोई गंभीर रूप से बीमार पड़ जाए या फिर किसी को प्रसव पीड़ा हो जाए तो उन्हें भगवान के भरोसे रहना पड़ेगा। कारण है कि चिखुरि नाला पर पुलिया बहने के कारण वहां पहुंचने के लिए एंबुलेंस तो दूर बाइक और साइकिल तक नहीं जा सकेगी। बारिश से ढहा कच्चा मकान सलखन। पिछले कुछ दिनों से रह-रह कर हो रही बारिश के कारण चोपन थाना क्षेत्र के सलखन गांव में रविवार की रात को खपरैल का एक कच्चा मकान ढह गया। गनीमत रहा कि उस समय घर में कोई मौजूद नहीं था। गांव के वशिष्ठ प्रजापति पुत्र सिंहासन का सलखन बाजार के मेन रोड के पास मकान है। पिछले कुछ दिनों से हो रही बारिश के कारण उनके जर्जर कच्चे मकान की छत चूने लगी थी। इसलिए वहां कोई रह नहीं रहा था। रविववार की रात को हुई हल्की बारिश के बाद वह भरभरा कर ढह गया। श्री प्रजापति के अनुसार मकान में कुछ कपड़े और घरेलु सामान रखे हुए थे। इस हादसे में कपड़े और सामान खराब हो गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:On the river Kanher river, the culvert, the river submerged