ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश सोनभद्रअब बिहार के बार्डर आसनडीह तक रोडवेज बसों का होगा संचालन

अब बिहार के बार्डर आसनडीह तक रोडवेज बसों का होगा संचालन

सोनभद्र, संवाददाता अब बिहार के बार्डर पर स्थित आसनडीह गांव तक रोडवेज की...

अब बिहार के बार्डर आसनडीह तक रोडवेज बसों का होगा संचालन
हिन्दुस्तान टीम,सोनभद्रMon, 12 Feb 2024 10:15 PM
ऐप पर पढ़ें

सोनभद्र, संवाददाता
अब बिहार के बार्डर पर स्थित आसनडीह गांव तक रोडवेज की बसों का संचालन किया जाएगा। इस मार्ग पर रोडवेज बसों का संचालन न किए जाने से बिहार की सीमा पर स्थित जिले के ग्रामीणों को आने-जाने के लिए प्राइवेट बसों व डग्गामार वाहनों की मदद लेनी पड़ रही थी। रोडवेज प्रशासन के इस फैसले से ग्रामीणों को यातायात की बेहतर सुविधा मिल जाएगी। इससे रोडवेज की कमाई में भी वृद्धि हो जाएगी।

जिले के ऐसे सैकड़ों गांव है जो अभी तक रोडवेज की बस सेवा से नहीं जोड़े जा सके है। खासकर बिहार, झारखण्ड और छत्तीसगढ़ के बार्डर पर स्थित गांवों के लिए अभी तक बस सेवा से नहीं जोड़े जा सके है। इससे बिहार की सीमा पर स्थित आसनडीह, विण्ढमगंज समेत सैकड़ों गांवों के लोगों को जिला मुख्यालय आने के लिए प्राइवेट बस या फिर डग्गामार वाहनों की मदद लेनी पड़ रही है। रोडवेज प्रशासन ने अब इन गांवों तक बसों का संचालन करने का फैसला किया है। रोडवेज के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक बिश्राम सिंह ने बताया कि रोडवेज की सेवा से वंचित गांवों तक बसों का संचालन करने का शासन ने निर्देश दिया है। शासन के निर्देश पर वंचित गांवों और कस्बों को शीघ्र ही रोडवेज की बस सेवा से जोड़ दिया जाएगा। इससे ग्रामीणों को जिला मुख्यालय आने-जाने में काफी सुविधा मिल जाएगी। वहीं रोडवेज की आमदनी में भी वृद्धि हो जाएगी। इन मार्गों पर स्थित गांवों को बस सेवा से जोड़ने के लिए शासन से नई बसों की डिमाण्ड की गई है।

बिहार के बार्डर पर स्थित आसनडीह तक रोडवेज की बसों का संचालन कर दिए जाने से सांगोबांध, नौगढ़,चकिया के साथ ही आसपास स्थित अन्य गांवों के लोगों को रोडवेज की बस सेवा का लाभ मिलेगा। इससे ग्रामीणों को जिला मुख्यालय के साथ ही अस्पताल और अन्य स्थानों पर आने-जाने में बेहतर सुविधा मिल जाएगी। अभी तक इन स्थानों के लोगों को आने-जाने के लिए निजी वाहनों या फिर प्राइवेट बसों व डग्गामार वाहनों की मदद लेनी पड़ रही थी। बसों का संचालन न किए जाने से आदिवासियों को सबसे अधिक दिक्कत हो रही थी। उन्हें अधिक किराया खर्च करना पड़ रहा था। अब आदिवासी कम किराए में आसानी से जिला मुख्यालय आ सकेंगे।

परिवहन विभाग ने रोडवेज को विभिन्न मार्गों पर बसों के संचालन के लिए 11 नई बसें मुहैया कराने का फैसला किया है। रोडवेज के प्रबंधक ने एआरएम को भेजे पत्र में कहा है कि इस माह के अंत तक नई बसें मुहैया करा दी जाएगी। वहीं नई बसें मिल जाने से रोडवेज को भी नये मार्गों पर बसों का संचालन करने में मदद मिलेगी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें