Fire engulfed over half dozen shops in Anpara - शक्तिनगर में आधा दर्जन से अधिक दुकानें जलीं DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शक्तिनगर में आधा दर्जन से अधिक दुकानें जलीं

शक्तिनगर में आधा दर्जन से अधिक दुकानें जलीं

1 / 2शक्तिनगर थाना क्षेत्र के पीडब्ल्यूडी मोड़ पर गुरुवार की देर रात संदिग्ध परिस्थितियों में लगी आग से आधा दर्जन से अधिक दुकानें जलकर राख हो गईं। आग इतनी भीषण थी कि एनटीपीसी और एनसीएल की आधा दर्जन से...

शक्तिनगर में आधा दर्जन से अधिक दुकानें जलीं

2 / 2शक्तिनगर थाना क्षेत्र के पीडब्ल्यूडी मोड़ पर गुरुवार की देर रात संदिग्ध परिस्थितियों में लगी आग से आधा दर्जन से अधिक दुकानें जलकर राख हो गईं। आग इतनी भीषण थी कि एनटीपीसी और एनसीएल की आधा दर्जन से...

PreviousNext

शक्तिनगर थाना क्षेत्र के पीडब्ल्यूडी मोड़ पर गुरुवार की देर रात संदिग्ध परिस्थितियों में लगी आग से आधा दर्जन से अधिक दुकानें जलकर राख हो गईं। आग इतनी भीषण थी कि एनटीपीसी और एनसीएल की आधा दर्जन से अधिक फायर बिग्रेड की गाडियों ने लगभग पांच घंटो की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। इस दौरान दुकानों में रखे लगभग तीस लाख रुपये से अधिक के सामान जलकर राख हो चुके थे। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है । घटना की खबर मिलते ही उपाजिलाधिकारी पिपरी केएस पांडेय शुक्रवार दोपहर घटनास्थल पहुंचे और मामले की गम्भीरता जांच कराने के साथ ही पीड़ितों को विधि सम्मत सहायता का आश्वासन दिया। गुरुवार की देर रात में राजीव गांधी मार्केट के सामने ज्वालामुखी मंदिर रोड पर स्थित जनरल स्टोर, पान मसाला, लेडीज कार्नर एवं ब्यूटी पार्लर,फल की थोक दुकान, स्टेशनरी की दुकान व मोबाइल की कुल सात दुकानों मे अचानक आग के शोले निकलते दिखायी दिये । होली का दिन होने के कारण पूरा इलाका सुनसान था तथा इस अगलगी की घटना पर सबसे पहले पेट्रोलिंग कर रही पुलिस की निगाह पड़ी। दुकानों को जलते देखा तो एनटीपीसी सिंगरौली परियोजना एवं एनसीएल खड़िया परियोजना के फायर बिग्रेड सेक्शन को सूचना के साथ ही दुकानदारों को भी सूचना दी गयी लेकिन तब तक आग भयावह हो चुकी थी । जब दो फायर बिग्रेड की गाडियां आग पर काबू नहीं पा सकीं तो और गाड़ियों को बुलाया गया। आधा दर्जन फायर बिग्रेड की गाड़ियों ने घंटो मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया । अगलगी का शिकार हुयी दुकानों में महेंद्र पुत्र बजऊ शाह की जनरल स्टोर एवं पान मसाला की थोक दुकान, विजय पुत्र नन्हकू, राज देव पुत्र छठनारायण, विकास स्टेशनरी , सुमित मोबाइल , रमाशंकर जर्दा एवं पूजा लेडीज कार्नर मुख्य हैं। आग की सूचना पर आस-पास के लोगों की भीड़ जुट गई। प्रथम दृष्टया आग लगने का कारण शार्ट सर्किट माना जा रहा है लेकिन जिस प्रकार सात दुकानों तक आग फैली हुयी थी और विकराल रूप लेने पर ही जानकारी मिली इससे किसी शरारत अथवा रजिंश से भी इंकार नहीं किया जा सकता है। पुलिस भुक्तभोगियों की तहरीर मिलने पर पूरी गम्भीरता से जांच की बात कह रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Fire engulfed over half dozen shops in Anpara