ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश सीतापुरविशेष न्यायाधीश एससी एसटी को धमकी देने वाले दो गिरफ्तार

विशेष न्यायाधीश एससी एसटी को धमकी देने वाले दो गिरफ्तार

सीतापुर, संवाददाता। विशेष न्यायाधीश एससी-एसटी को धमकी देने वाले दो अभियुक्तों को गिरफ्तार करने...

विशेष न्यायाधीश एससी एसटी को धमकी देने वाले दो गिरफ्तार
हिन्दुस्तान टीम,सीतापुरSat, 02 Dec 2023 10:15 PM
ऐप पर पढ़ें

सीतापुर, संवाददाता। विशेष न्यायाधीश एससी-एसटी को धमकी देने वाले दो अभियुक्तों को गिरफ्तार करने में पुलिस को सफलता मिली है। दो दिन पूर्व विशेष न्यायाधीश को धमकी भरा पत्र मिला था। पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्र के मुताबिक यह पत्र महमूदाबाद डाकखाने से भेजा गया है। इसमें शामिल एक अभियुक्त को सीसीटीवी फुटेज के जरिए देखा गया है।

पुलिस अधीक्षक के मुताबिक अपर पुलिस अधीक्षक उत्तरी प्रकाश कुमार व क्षेत्राधिकारी नगर सुशील कुमार के नेतृत्व में टीम बनी थी। प्रकरण में दो अभियुक्तों कृष्ण कुमार दुबे पुत्र स्व.शिवशंकर दुबे निवासी परसदा थाना मछरेहटा व रामकुमार शर्मा पुत्र बांकेलाल शर्मा निवासी बिद्धीपुर कलां थाना बड्डूपुर बाराबंकी को वैदेही वाटिका के पास से गिरफ्तार किया गया। दरअसल विशेष न्यायाधीश की सूचना पर कोतवाली नगर में मुकदमा दर्ज किया गया था। पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्र के मुताबिक डाक प्राप्त पत्र का विश्लेषण करने से व संबंधित डाकखाने से विवरण प्राप्त करने पर समय व सीसीटीवी फुटेज व कॉल डिटेल से एक अन्य अभियुक्त रामकुमार शर्मा पुत्र बांकेलाल शर्मा निवासी बिद्धीपुर कलां थाना बड्डूपुर जनपद बाराबंकी की पुष्टि की गई। यह अभियुक्त षडयंत्र कर कृष्णकुमार दुबे के साथ मिलकर स्वयं हस्ताक्षर कर धमकी भरा पत्र प्रेषित किया है। यह प्रमाणित हुआ है। दोनों अभियुक्तों की संलिप्तता के आधार पर दोनों का रिमांड प्राप्त किया जा रहा है। विशेष न्यायाधीश रामविलास सिंह व उनके परिवार की सुरक्षा के लिए 24 घंटे सशस्त्र आरक्षी की ड्यूटी लगायी गयी है। अभियुक्तों को गिरफ्तार कर चालान किया जा रहा है।

यह था मामला जिसमें दी गई धमकी: पुलिस अधीक्षक के मुताबिक एक अभियुक्त कृष्ण कुमार दुबे पुत्र स्व.शिवशंकर दुबे निवासी परसदा थाना मछरेहटा तत्कालीन प्रधान की पत्नी मालती की हत्या में नामित चल रहा है। विशेष न्यायाधीश एससी एसटी एक्ट के यहां मुकदमे की सुनवाई हो रही है। अभियुक्त ने गलत तरीके से गवाही व विचारण करने का आरोप लगाते हुए न्यायाधीश रामविलास सिंह व उनके परिवारीजन को जान से मारने की धमकी का पत्र पेषित किया। पूछताछ में अभियुक्त कृष्ण कुमार दुबे ने बताया कि पूर्व से ही मुकदमा अपराध संख्या 251/16 में जब से आरोप तय हुआ है तभी से ही लगातार वादी मुकदमा भोले पासी पुत्र मुन्नेलाल पासी निवासी परसदा थाना मछरेहटा का बयान किसी न किसी बहाने से टाला जाता रहा। 16 अक्तूबर को जाकर बयान हो सका है। 24 नवम्बर को उक्त मुकदमें में न्यायालय द्वारा जिरह का अवसर समाप्त कर दिया गया है। पुलिस अधीक्षक के मुताबिक अभियुक्त कृष्ण कुमार दुबे द्वारा 31 अक्तूबर 2023 को न्यायालय विशेष न्यायाधीश एससी/एसटी कोर्ट के विरुद्ध एक प्रार्थना पत्र जिला जज को दिया गया था। न्यायालय विशेष न्यायाधीश के ऊपर आरोप लगाते हुए उक्त मुकदमें को किसी अन्यत्र कोर्ट में ट्रांसफर करने या न किये जाने की स्थिति में उच्च न्यायालय में रिट दाखिल किये जाने की धमकी देते हुए प्रेषित किया था। जो खारिज हो गया।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें