ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश सीतापुरतरबूज का उत्पादन अच्छा पर खरीदार नहीं मिले रहे

तरबूज का उत्पादन अच्छा पर खरीदार नहीं मिले रहे

किसानों में मायूसी लॉकडाउन के चलते बाजारों तक नहीं पहुंच पा रही फसल

तरबूज का उत्पादन अच्छा पर खरीदार नहीं मिले रहे
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,सीतापुरSun, 30 May 2021 03:00 AM
ऐप पर पढ़ें

किसानों में मायूसी

लॉकडाउन के चलते बाजारों तक नहीं पहुंच पा रही फसल

मई माह में लगातार बारिश से तरबूज खराब होने की आशंका

पैंतेपुर। संवाददाता

क्षेत्र के किसानों ने इस बार तरबूज का अच्छा उत्पादन किया लेकिन खरीदार न मिलने से मायूसी हाथ लगी। एक तरफ, लॉकडाउन के चलते तरबूज बाजार तक नहीं पहुंच पाया, वहीं लगातार बारिश से फसल को भारी नुकसान पहुंचने पहुंचा है। मजबूरन किसानों को पांच रुपये किलो के भाव से तरबूज बेचना पड़ रहा है।

बसिया, पैंतेपुर, केदारपुर, चांदपुर, शिकारपुर, बिलासपुर, दविंदापुर, रायपुर गांवों में किसानों ने सैकड़ों बीघा जमीन पर तरबूज की खेती की थी। किसानों ने दिन-रात मेहनत कर तरबूज का अच्छा उत्पादन किया लेकिन कोरोना महामारी के चलते सरकार द्वारा लॉकडाउन किए जाने और लगातार बारिश होने से तरबूज की मांग आशानुरूप नहीं रही। बिक्री न होने पर तरबूज को किसान वापस घर ले गए। ग्रामीण क्षेत्रों का बाजार भी ठंडा पड़ा रहा। वहीं, लॉकडाउन के चलते शहरी क्षेत्र से वाहन तरबूज लेने नहीं आ सके। मजबूरी में किसान सस्ते दामों पर तरबूज ग्रामीण क्षेत्र में बेचते देखे गए। किसान रामचंद्र कई वर्षों से तरबूज की खेती करते हैं। उन्होंने बताया कि पिछले दो वर्षों से कोरोना महामारी के चलते तरबूज के खरीदार नहीं मिल पा रहे हैं। इससे किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। साथ ही मेहनत मजदूरी भी नहीं निकल रही है।

epaper