DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  सीतापुर  ›  चार डिग्री और लुढका पारा, गर्मी से राहत
सीतापुर

चार डिग्री और लुढका पारा, गर्मी से राहत

हिन्दुस्तान टीम,सीतापुरPublished By: Newswrap
Tue, 15 Jun 2021 03:02 AM
चार डिग्री और लुढका पारा, गर्मी से राहत

मौसम का मिजाज

जिले में बीते 24 घंटे से रुक-रुक कर हो रही रिमझिम बारिश

उमस कम होने से बिना कूलर पंखा के भी लोग घरों में रहे दुबके

सीतापुर। पिछले दो दिनों से रुक-रुक कर हो रही रिमझिम बारिश ने लोगों को गर्मी से राहत पहुंचाई। उमस से भी लोगों को काफी हद तक राहत मिली है। रविवार को अधिकतम 30 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा पारा सोमवार को लुढक कर 26 डिग्री पर आ गया। तापमान में करीब चार डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई। वहीं रिमझिम बारिश के बीच आठ किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चल रही हवाओं ने हल्की ठंड का एहसास कराया। घरों के भीतर मौजूद लोगों को उमस ने ज्यादा नहीं सताया। बिना पंखा और कूलर के भी घरों में दुबके रहे। जिले का न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। मौसम के जानकार अभी आसमान साफ होने की उम्मीद नहीं जता रहे हैं। मंगलवार को भी बारिश की संभावना जताई जा रही है।

बच्चों व युवाओं ने बारिश का उठाया लुत्फ:

आसमान से टपकती रिमझिम फुहारें बच्चों और युवाओं को अपनी ओर आकर्षित कर रही हैं। सोमवार दिन में तमाम युवा मोटरसाइकिल और पैदल घूमते हुए मौसम का आनन्द लेते हुए देखे गए। वहीं बच्चों ने घरों पर पहुंचकर बारिश का लुत्फ उठाया। मम्मी की डांट के बावजूद बच्चे नहीं माने और छतों पर आसमान से गिरती बूंदों में नहाकर आनन्द उठाया। हालांकि परिजनों ने बीमारी का हवाला देते हुए बच्चों को समझा-बुझाकर घरों में ही कैद रखा। उन्हें बाहर नहीं निकलने दिया।

सेहत के लिए भारी पड़ सकता है भीगना:

मानसून की पहली बारिश है, ऐसे में लोगों का भीगना भारी पड़ सकता है। डॉ. जेएन सिंह का कहना है कि इस समय मौसम में लगातार उतार-चढ़ाव हो रहा है। ऐसे में लोगों को ज्यादा एहतियात बरतने की जरूरत है। ठंडे पेय पदार्थों का सेवन न करें। जहां तक हो सके बारिश के दौरान भीगने से बचें। अगर भीग जाते हैं तो तुरन्त घर पहुंचकर पूरे शरीर को सूखे कपड़े से पोंछकर कपड़े बदल लें। बच्चों को भी भीगने से बचाएं। ऐसे मौसम में सर्दी, जुकाम, बुखार की संभावना अधिक रहती है। एहतियात ही सबसे अच्छा उपाय है।

संबंधित खबरें