DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › धरने तक सीमित रहा किसान संगठनों का भारत बंद, खुली रही दुकानें
सिद्धार्थ

धरने तक सीमित रहा किसान संगठनों का भारत बंद, खुली रही दुकानें

हिन्दुस्तान टीम,सिद्धार्थPublished By: Newswrap
Tue, 28 Sep 2021 05:01 AM
धरने तक सीमित रहा किसान संगठनों का भारत बंद, खुली रही दुकानें

सिद्धार्थनगर। निज संवाददाता

सोमवार को भारत बंद का जिले में कोई असर देखने को नहीं मिला। किसान संगठनों ने अलबत्ता धरना-प्रदर्शन किया और ज्ञापन सौंपा। भारत बंद को लेकर सुबह से ही पुलिस प्रशासन मुस्तैद रही।

तीनों किसान कानून की वापसी सहित अन्य मांगों को लेकर उत्तर प्रदेश किसान सभा, भाकियू, मजदूर संघ ने संयुक्त रूप से भारत बंद के समर्थन में कलक्ट्रेट परिसर में जुटने के बाद पहले कलक्ट्रेट के सामने एनएच पर लगभग 15 मिनट तक धरना दिया। इसके बाद वह लोग प्रदर्शन करते हुए शहर का रुख किया। शहर की सड़कों पर प्रदर्शन करते हुए शहर की रेलवे क्रासिंग पर पहुंचे और वहां पर लगभग 10 मिनट तक रुक कर प्रदर्शन किया। सरकार विरोधी नारे लगाए। इस दौरान न तो कोई ट्रेन गुजरी और न ही किसी ट्रेन का संचालन की प्रभावित हुआ। प्रदर्शन करते हुए कलक्ट्रेट पहुंच कर प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन एडीएम सीताराम गुप्त को सौंपा और तीनों किसान कानून वापसी के साथ अन्य किसानों की समस्याओं के समाधान की मांग की। इस दौरान भाकियू के जिलाध्यक्ष प्रदीप कुमार पांडेय, सूर्य प्रकाश सिंह, राकेश चौधरी, महेंद्र चौधरी, हरिश चंद्र चौधरी, प्रदीप यादव, लक्षमन गुप्त, रविंद्र प्रसाद गुप्त, उपेंद्र कुमार, घनश्याम, शमसुज्जोहा, भारतीय किसान मजदूर संयुक्त यूनियन के जिलाध्यक्ष रामानंद गुप्त, इंद्रमती, शंभू प्रसाद तिवारी, अशोक कुमार तिवारी, लक्ष्मी, किसान सभा जिलाध्यक्ष श्यामलाल शर्मा, सैय्यद नौशाद अली, अनवारुल्लाह आदि मौजूद रहे।

सुबह से ही उठे रहे दुकानों के शटर

भारत बंद के बावजूद भी शहर से लेकर पूरे जिले में कहीं पर भी बंदी का असर नहीं रहा। सुबह से ही दुकानों के शटर उठे रहे। आम दिनों की तरह दुकानदारों ने व्यापार किया। शहर की सड़कों पर आम दिनों की तरह लोगों की भी आवाजाही जारी रही।

संबंधित खबरें