ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशमेडिकल कॉलेज में दलालों की इंट्री पर लगेगी रोक

मेडिकल कॉलेज में दलालों की इंट्री पर लगेगी रोक

सिद्धार्थनगर। निज संवाददाता माधव प्रसाद त्रिपाठी मेडिकल कॉलेज में अब दलालों...

मेडिकल कॉलेज में दलालों की इंट्री पर लगेगी रोक
हिन्दुस्तान टीम,सिद्धार्थMon, 24 Jun 2024 01:30 AM
ऐप पर पढ़ें

सिद्धार्थनगर। निज संवाददाता
माधव प्रसाद त्रिपाठी मेडिकल कॉलेज में अब दलालों की इंट्री पर पूरी तरह से रोक लगाने की तैयारी है। नवागत प्रधानाचार्य प्रो.डॉ. राजेश मोहन मरीजों-तीमारदारों की व्यवस्था को बेहतर करने में जुटे हैं। दलालों के विरुद्ध कड़ा एक्शन लेने के लिए नियम बनाने की तैयारी है। ऐसा होने पर मरीजों-तीमारदारों को बड़ी राहत मिल जाएगी।

प्रधानाचार्य ने बताया कि मेडिकल कॉलेज के स्वास्थ्य विंग में ओपीडी व इमरजेंसी दोनों स्थानों पर दलालों का आना-जाना लगा रहता है। इनके आने से परामर्श लेने आए मरीज-तीमारदारों को बड़ी दिक्कतें उठानी पड़ती है। दलाल मोटे कमीशन के चक्कर में मरीजों-तीमारदारों के हाथों से पर्चा लेकर पसंदीदा दुकानों पर पहुंचाकर दवा की खरीदारी करा देते हैं। दलालों के इस खेल से मरीजों-तीमारदारों की जेब ढीली होती है। इसके अलावा ब्लड जांच के नाम पर भी काकस बना है। दलाल बाहर के लैब पर पहुंचाकर मरीजों से मोटा पैसा वसूल करते हैं। इस पर पूरी तरह से रोक लगाने की तैयारी है। उन्होंने बताया कि अस्पताल में दलालों के चलते मरीजों-तीमरदारों को परेशानियां हो रही हैं। ऐसे में अस्पताल के अंदर दलालों की इंट्री पर पूरी तरह से रोक लगाने की तैयारी है। इसके लिए कड़ा नियम बनाया जाएगा। नियम बनाने की प्रक्रिया चल रही है। नियम बनने के बाद दलालों के विरुद्ध स्टीक निर्णय लिया जाएगा। प्रधानाचार्य ने कहा कि वह मेडिकल कॉलेज की व्यवस्था को बेहतर करना चाहते हैं, इसलिए जरूरत वाले जगहों पर नियम का सहारा लिया जा रहा है।

,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,

निजी एंबुलेंस होंगे बाहर

प्रधानाचार्य ने बताया कि इमरजेंसी के बाहर खड़ी प्राइवेट एंबुलेंस को भी हटवाया जाएगा। प्राइवेट एंबुलेंस चालक इमरजेंसी से मरीज के रेफर होने के बाद अपने निजी नर्सिंग होम लेकर चले जाते हैं, जबकि मरीज को हायर सेंटर रेफर किया जाता है। ऐसे में निजी एंबुलेंस चालक अपने कमीशन के चक्कर में मरीज की जिंदगी के साथ खिलवाड़ करता है। इस पर भी पूरी तरह से नकेल कसने की तैयारी है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।